Bindash News || हो ऐसा ही प्रतिनिधि जिसपे नाज़ करें जनप्रतिनिधि
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

हो ऐसा ही प्रतिनिधि जिसपे नाज़ करें जनप्रतिनिधि

Bindash News / 26-06-2021 / 1042


कंचन के दरख़्वास्त पर हुआ मंत्री का दस्तख़त


आशुतोष रंजन
गढ़वा

कोई भी जनप्रतिनिधि यानी विधायक अपना प्रतिनिधि इस उद्देश्य से नियुक्त करता है कि उसकी मौजूदगी में नहीं बल्कि गैरहाज़िरी में वो उसका मज़बूती से प्रतिनिधित्व करे,जितना उम्र हुआ और राजनीति के क़रीब रहने का मौक़ा मिला उसके हिसाब से तो यही देखने को मिला कि किसी भी क्षेत्र के विधायक द्वारा एक ओर जहां पूरे क्षेत्र के लिए एक ही प्रतिनिधि नियुक्त किया गया,तो वहीं दूसरी ओर उक्त प्रतिनिधि द्वारा सार्वजनिक कार्यों की जगह निजी हित के कार्य ज़्यादा किये गए,आलम हुआ कि उसका बड़ा ख़ामियाजा जनप्रतिनिधि को भुगतना पड़ा,क्योंकि कुछ निजी लोग तो लाभान्वित जरूर हुए पर सार्वजनिक तबका यानी क्षेत्र का आम आवाम अपने हक़ अधिकार के दायरे से बाहर रहा,सीधे रूप में कहें तो महरूम रहा,लेकिन अपने गढ़वा में एक प्रतिनिधि ऐसा भी है जिसपे जनप्रतिनिधि को नाज़ हो रहा है,आख़िर ऐसा क्यों,पूरी बात समझने के लिए आप इस रिपोर्ट को पढ़िये।

जिसपे नाज़ करें जनप्रतिनिधि:- आप उस क्षण का अंदाज़ा भी नहीं लगा पाएंगें जब एक जनप्रतिनिधि को अपने प्रतिनिधि के कारण आवाम के बीच में उलाहना के साथ साथ कई तरह की बातें सुनने को मिले,अपने गढ़वा जिले के आधे भाग वाले एक विधानसभा क्षेत्र में सुनने के साथ साथ उस क्षण को सदृश्य देखने का मुझे मौक़ा भी मिला है,लेकिन इसी जिला का ही एक क्षेत्र ऐसा है जहां के जनप्रतिनिधि द्वारा एक तरफ़ जहां प्रतिनिधि नियुक्त करने का किया गया अभिनव पहल कारगर सिद्ध हो रहा है,वहीं अपनी अपनी जिम्मेवारियों का बख़ूबी निर्वहन कर रहे उनके सभी प्रतिनिधियों में से एक प्रतिनिधि ऐसा भी है जिसपे जनप्रतिनिधि नाज़ कर रहे हैं,हम बात यहां गढ़वा विधायक सह मंत्री मिथिलेश ठाकुर और उनके स्वास्थ्य प्रतिनिधि कंचन साहू की कर रहे हैं,विधायक निर्वाचित होने से पूर्व उनके मन में जो सोच था जिस वज़ह से नुक़सान होते उन्होंने क़रीब से देखा था वो हमारे रहते नहीं होगा इस सोच को उनके द्वारा विधायक बनने के साथ ही कार्यरूप में लाया गया,वो यह कि उन्होंने किसी एक को नहीं बल्कि हर विभाग के लिए अलग अलग प्रतिनिधि नियुक्त किया,जिसका सुपरिणाम सामने आ रहा है,उन सभी प्रतिनिधियों में से एक नाम आता है स्वास्थ्य प्रतिनिधि कंचन साहू का जिनके द्वारा सवास्थ्य के क्षेत्र में किया गया अब तलक का कार्य सराहनीय के साथ साथ अनुकरणीय भी है,जिस सदर अस्पताल में कभी लोग सामान्य इलाज़ कराने जाने में भी हिचकते थे आज उस अस्पताल में मरीज़ों को बेहतर इलाज़ मुहैया हो रहा है,अस्पताल के अव्यवस्थित हालात को व्यवस्थित करने में जुटे मंत्री द्वारा भी कई बार अपने कार्यक्रम में इस बात को दुहराया गया कि हमारे स्वास्थ्य प्रतिनिधि कंचन साहू द्वारा किये जा रहे अनथक प्रयास का ही यह परिणाम है,अपनी जवाबदेही वाले कार्यों के साथ साथ कंचन साहू का जो सोच मंत्री के सामने परिलक्षित हुआ उसे देख जहां मंत्री ख़ुश हुए वहीं उन्हें अपने प्रतिनिधि पर नाज़ भी हुआ।

हुआ मंत्री का दस्तख़त:- सुबह से देर शाम तक अस्पताल में शहर से सुदूर क्षेत्रों से आये मरीज़ों को बेहतर इलाज़ मुहैया कराने से ले कर उन्हें हर तरह की सुविधा उपलब्ध कराने को तत्पर रहने वाले प्रतिनिधि कंचन साहू शहर के साथ साथ क्षेत्र की समस्या से भी लोगों से अवगत होते रहते हैं ताकि उसका समाधान मंत्री से कराया जा सके,उन्हीं समस्याओं की एक फ़ेहरिस्त ले कर वो रांची पहुंचे जहां उनके द्वारा मंत्री को उन समस्याओं के कारण आवाम को हो रही परेशानी से अवगत कराया गया,उनके द्वारा बताया गया कि नगर-परिषद के कार्यकाल के पंद्रह साल होने को है पर अफ़सोस आज भी लोग मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं,कचड़े का निस्तारण से लेकर नदियों का अस्तित्व मिटना तथा मृत्योपरांत श्मशान घाट के अभाव में लोग आज भी अपने परिजनों को कड़े धूप एवम बारिश में खुले आसमान में अंतिम संस्कार करने को विवश है,शहर का बढ़ता क्षेत्रफल और जड़वत पुरानी व्यवस्था के कारण लोग जिलालत भरी ज़िंदगी जीने को मजबूर हैं,प्रतिनिधि ने कहा कि आपके पहल और प्रयास का ही नतीज़ा है कि आज गांव-गांव में विकास की वो किरण पहुंच रही है जिसकी रौशनी से उन गांव के लोग दशकों से महरूम थे,उसी उजाले की चाहत नगर परिषद क्षेत्र के लोगों ने भी आपसे की है,कुशल नेतृत्व एवं सरकारी संसाधनों का माक़ूल लाभ लाभुकों तक पहुंचाने हेतु प्रशासन की सहभागिता तय कर विकास की गति तीव्र बढ़ने के कारण लोगों को भरोसा है कि स्थानीय विधायक सह मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर द्वारा नगरीय और ग्रामीण सुविधा उपलब्ध करायी जाएगी,उन सभी समस्याओं को ले कर जो सूची कंचन साहू द्वारा मंत्री को उपलब्ध करायी गयी आइये उससे आपको अवगत कराते हैं।


1-टन्डवा स्थित भगलपुर दानरो नदी तट पर छठ घाट का निर्माण।

2-अस्तिव खो चुके शहर का लाइफ लाइन कहे जाने वाले सरस्वतिया नदी का तटबन्ध निर्माण।

3-मुख्य सड़क से टेलीफोन के खम्भो को हटाना,जिससे सड़क का चौड़ीकरण हो सके।

4-प्रदूषित हो चुके नदियों की सफाई एवं उसे कचड़ा मुक्त करना।

5- टंडवा स्थित भगलपुर के पास दानरो नदी तट पर श्मशान घाट का निर्माण।

6- मझिआंव मोड़ का सुंदरीकरण।

7- श्री बांके बिहारी मंदिर के सामने सामुदायिक धर्मशाला का निर्माण।

8- लंबे समय से फुटपाथ पर आजीविका चलाने वाले रेहड़ी एवं ठेला दुकानदारों के स्थाई करन हेतु वेंडर मार्केट का निर्माण।

9- टंडवा स्थित चिलिंग प्लांट के सामने श्मशान शेड का निर्माण।

10- उंचरी स्थित कब्रिस्थान की चारदीवारी का जीर्णोद्धार।

11- स्टेशन रोड स्थित रामलला मंदिर के बगल में कपिल ठाकुर के घर के पास चापाकल का अधिस्थापन।

12- लगमा स्थित ब्रम्हस्थान का अहाता निर्माण।

13- दलेली स्थित चिड़ी धाम(महताम) के पास चौपाल एवम पीसीसी पथ का निर्माण।

14- कल्याणपुर स्थित डैम को पर्यटक स्थल बनाने का कार्य।

हो कर आह्लादित,मंत्री ने कहा जल्द कार्य होंगें संपादित:- केवल अपनी ज़िम्मेवारी का निर्वहन ही नहीं बल्कि शहर से ले कर ग्रामीण क्षेत्रों की उन जड़वत समस्या जिसके समाधान को ले कर मेरा ध्यान आकृष्ट कराया गया इस कार्य के लिए जहां एक ओर मंत्री आह्लादित हुए वहीं प्रतिनिधि कंचन साहू की सराहना भी की,समस्याओं की लंबी फ़ेहरिस्त में से कुछ समस्याओं का निराकरण विधायक निधि से तो कुछ के समाधान के बावत जिला उपायुक्त को त्वरित पत्र प्रेषित किया गया,कहा कि विधानसभा क्षेत्र का शहर हो या गांव विकास से महरूम रहे यह मुझे गंवारा नहीं,मैं सभी समस्याओं के समाधान को ले कर हर वक्त प्रयासरत हूं।

इनकी भी रही मौजूदगी:- जिस वक्त प्रतिनिधि कंचन साहू द्वारा मंत्री को समस्याओं से अवगत कराया गया उस मौके पर असजद अंसारी,हेमंत गुप्ता,धीरज दुबे,चंदन पासवान,मासूम माही,एवं अरुण सोनी मुख्य रूप से मौजूद रहे।


Total view 1042

RELATED NEWS