Bindash News || पास रख "हथियार" कर रहे अवैध "दारू" का कारोबार"
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

पास रख "हथियार" कर रहे अवैध "दारू" का कारोबार"

Bindash News / 26-09-2018 / 936


हथियार के साथ हत्थे चढ़ा दारू कारोबारी
चाहे कितना कर लें परवाज़,नहीं बचेंगें धंधेबाज:ओमप्रकाश
 
आशुतोष रंजन
गढ़वा
 
रख कर पास में हथियार,कर रहे अवैध दारू का कारोबार,जी हां गढ़वा पुलिस ने एक ऐसे दारू कारोबारी को गिरफ़्तार किया है जो साथ में अवैध हथियार रख शराब के अवैध काम को अंजाम देता है,कौन है वह धंधेबाज और कहां से हुई गिरफ़्तारी जानने के लिए पढ़िए यह रिपोर्ट
 
दारू झारखंड का,ख़पत बिहार में:- बिहार में दारू बंद क्या हुआ झारखंड में भारी मात्रा में बनना शुरू हो गया ताकि उसे बिहार भेजा जा सके,जी हां यह बिहार-झारखंड सीमा पर अवस्थित कांडी प्रखंड इलाके में वह चाहे सोन नदी के मध्य में अवस्थित डिला हो या गांव क्षेत्र सभी जगह भारी पैमाने पर अवैध रूप से देशी दारू बनायी जा रही है,जिसे नदी के रास्ते बिहार भेजा जा रहा है,उसके रोकथाम के लिए पुलिस लगातार अभियान चला रही है जिसमें धंधेबाज गिरफ्त में आ रहे हैं।
 
हथियार के साथ हत्थे चढ़ा दारू कारोबारी:- गढ़वा जिला पूर्ण रूप से अवैध दारू के धंधे से मुक्त हो इस निमित एसपी शिवानी तिवारी द्वारा मिले स्पष्ट निर्देश के आलोक में पुलिस अधिकारी लगातार अभियान चला रहे हैं जिसमें सफ़लता भी मिल रही है,एक तरफ जहां शराब भट्ठी नष्ट किये जा रहे हैं वहीं धंधेबाज भी गिरफ्त में आ रहे हैं,इसी कड़ी में पुलिस को सूचना मिली कि कांडी थाना क्षेत्र के चटनियां गांव में एक व्यक्ति द्वारा अवैध रूप से भारी मात्रा में दारू बनाया जा रहा है,सूचना के आधार पर पुलिस वहां पहुंच कर संचालित हो रहे भट्ठी को ध्वस्त करते हुए दारू बनाने वाले उपकरणों को नष्ट करती है साथ ही धंधे में लिप्त भट्ठी संचालक शिवनाथ यादव को गिरफ़्तार करती है,जब उसकी तलाशी ली जाती है तो उसके पास से पुलिस को एक पिस्तौल और गोली बरामद होता है।
 
नहीं बचेंगें धंधेबाज:- चाहे जितना कर लें परवाज़,नहीं बचेंगें धंधेबाज,जी हां कुछ इस पंक्ति के साथ तल्ख़ लहज़े में एसडीपीओ गढ़वा ओमप्रकाश तिवारी ने कहा कि छुप कर दारू का अवैध कारोबार करने वाले इस मुग़ालते में हैं कि वह तरक़्क़ी की राह में परवाज़ कर रहे हैं,पर उन्हें इल्म नहीं है कि वो हमारे नज़र में हैं,और किसी सूरत में नहीं बख्शे जायेंगें,दारू बनाने वाले के पास हथियार की बरामदगी के बाबत पूछे जाने पर अधिकारी ने कहा कि अब दारू का अवैध कारोबार या तो आपराधिक प्रवृति के लोग कर रहे हैं या उनके संरक्षण में हो रहा है तो स्वाभाविक है कि उनके पास से हथियार बरामद होगा ही,लेकिन एक बार फ़िर से यही कहना है कि दारू के कारोबारी अब ख़ुद को समेट कर सही राह पर आ जाएं नहीं तो उन्हें लाल घर का रास्ता सुझाना तो हमने शुरू कर ही रखा है।
 
 

 

Total view 936

RELATED NEWS