Bindash News || सत्तापक्ष हिला रहा आसन,अब तो कुछ करे प्रशासन
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

Economy

सत्तापक्ष हिला रहा आसन,अब तो कुछ करे प्रशासन

Bindash News / 18-10-2021 / 95


संदर्भ: सांस्कृतिक कार्यक्रम में फ़ायरिंग मामला


आशुतोष रंजन
गढ़वा

गांव में दशहरा मिलन का कार्यक्रम आयोजित कर बार बालाओं को नचाना और साथ ही ज़्यादा खुश होते हुए हथियार से फ़ायरिंग करना नेता जी को इतना महंगा पड़ जायेगा,शायद इसका इल्म उन्हें भी नहीं था,तभी तो हर संभावित ख़तरे से अनजान रहते हुए उनके द्वारा भरे भीड़ के बीच फ़ायरिंग किया गया,हम बात यहां झारखंड मुक्ति मोर्चा के युवा जिलाध्यक्ष नितेश सिंह की कर रहे हैं जिनके द्वारा अपने पंचायत क्षेत्र में ख़ुद के द्वारा आयोजित किये गए सांस्कृतिक कार्यक्रम में एक ओर जहां बार बालाओं को जमकर नचाया गया वहीं उनके पांव के थिरकन के अनुसार इधर रायफ़ल से फ़ायर भी किया गया,अब यह वीडियो वायरल हो गया,वायरल होते ही जहां एक ओर मीडिया की सुर्खियां बना वहीं विपक्षी पार्टियों द्वारा भी हमला शुरू कर दिया गया,आइये आपको इस ख़बर के जरिये बताते हैं कि भाजपा युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष ने क्या कहा।

अब तो कुछ करे प्रशासन:- सत्तापक्ष हिला रहा प्रशासनिक आसन,अब तो कुछ करे प्रशासन",जी हां फ़ायरिंग का मामला सामने आने के बाद भाजपा द्वारा एक तरफ़ जहां सरकार के विरुद्ध तो दूसरी ओर प्रशासन पर हमला बोला जा रहा है,तभी तो भाजयुमो जिलाध्यक्ष रितेश चौबे द्वारा प्रेसवार्ता का आयोजन किया गया,जहां पत्रकारों से मुख़ातिब होते हुए उनके द्वारा कहा गया कि झामुमो के युवा जिलाध्यक्ष नितेश सिंह द्वारा जिस तरह से चिनिया के बरवाडीह में अश्लील डांस एवं फायरिंग कर कानुन का खुलेआम धज्जियां उड़ाई गयी,क्या यह क्षम्य है.?,क्या इस मामले में कार्रवाई नहीं होनी चाहिए.?,ऐसे कई सवाल हैं जो आज जेहन में कौंध रहा है,पर इसका ज़वाब देने वाले ज़बान आज ख़ामोश हैं,हम बात जिला प्रशासन की कर रहे हैं,क्योंकि ऐसा कुकृत्य कर प्रशासन का आसन हिलाया गया है,लेकिन फ़िर भी प्रशासन मौन क्यों है.?,अब तलक इस मामले में कोई कार्रवाई क्यों नहीं कि गयी.?,उन्होंने कहा कि क्या इस आयोजन के लिए प्रशासन से अनुमति ली गयी थी.?,अग़र नहीं तो फ़िर किसके शह पर इस कोविड काल में भीड़ लगाकर अश्लील डांस का आयोजन किया गया.?,नियम कानून को ताक पर रखकर खुलेआम भीड़ में फायरिंग किया गया,इस से यह साबित होता है कि गढ़वा में झामुमो आतंक राज राज फैला रहा है,कहा कि जब भाजपा ने पुतला दहन कार्यक्रम किया था तो प्रशासन द्वारा पुर्व विधायक सत्येन्द्रनाथ तिवारी,पार्टी जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश केशरी सहित कई नेता और कार्यकर्ता के विरुद्ध फर्जी मुकदमा दायर कर दिया था,लेकिन आज जब चिनिया में कानुन की खुलेआम धज्जियां उड़ाई गयी तो प्रशासन मौन क्यों है.?,बताया तो यहां तक जा रहा है कि फ़ायरिंग के बाद ही लाठी डंडे से मार-पीट भी हुआ है,जिलाध्यक्ष रितेश ने खाकी गढ़वा जिला प्रशासन झामुमो के दबाव में काम कर रही है,प्रशासन को निष्पक्ष होना चाहीए लेकिन गढ़वा जिला सहीत पुरे झारखंड में झामुमो गलत काम को बढ़ावा देने में लगी हुई है,उन्होंने कहा कि इस मामले में बड़ी अनहोनी हो सकती थी,जब से गढ़वा में झामुमो विधायक मिथलेश ठाकुर बने हैं हर जगह मनमानी चल रहा है,अगर निष्पक्ष जांच एवं कार्रवाई नहीं की गयी तो भाजयुमो इस मामले को लेकर आंदोलन करने के लिए बाध्य होगा।

ये भी रहे मौजूद:- प्रेसवार्ता में मुख्य रूप से भाजयुमो जिला उपाध्यक्ष अरुण तिवारी,जिला मिडिया प्रभारी लक्ष्मीकांत पाण्डेय,नवीन जायसवाल,जिला कार्यसमिति सदस्य अजीत तिवारी,उदय कुशवाहा,राजा राम तिवारी,जावेद अख्तर,सहित अन्य कई लोग मौजूद थे।

Total view 95

RELATED NEWS