Bindash News || गढ़वा में मूर्ति चुराते हैं पलामू के चोर
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

गढ़वा में मूर्ति चुराते हैं पलामू के चोर

Bindash News / 21-02-2022 / 1505


चार चोर हुए गिरफ़्तार


आशुतोष रंजन
गढ़वा

पहले मंदिर से मूर्ति चोरी होती है,फ़िर कुछ रोज़ बाद उसे मंदिर के पास पाया जाता है,और आज उस चोरी में शामिल चोरों की गिरफ़्तारी भी हो जाती है,यह नाटकीय घटनाक्रम आख़िर कहां घटित हुई,आइये इस ख़बर से जानिए।

यहां से हुई थी मूर्ति की चोरी:- झारखंड का गढ़वा जिला जहां अवस्थित प्राचीन मंदिरों से अक़्सर मूर्ति चोरी की घटना सामने आती रहती है,नयी चोरी की घटना कांडी थाना क्षेत्र में अवस्थित प्राचीन गरदाहा मंदिर में घटित हुई थी,गुज़रे चार फ़रवरी की रात में चोरों द्वारा उक्त मंदिर से राधा कृष्ण की अष्टधातु की मूर्ति चोरी कर ली गयी थी,सुबह पुजारी द्वारा मूर्ति चोरी की बात बताए जाने के बाद लोग सकते में आ गए थे,तत्काल पुलिस को सूचना दी गयी,पुलिस मंदिर पहुंच पड़ताल करने के साथ साथ अज्ञात चोरों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज़ करते हुए मूर्ति की खोज़ एवं चोरों की गिरफ़्तारी में जुट गयी,इधर पुलिस मामले के अनुसंधान में जुटी हुई थी कि एक रोज़ फ़िर अहले सुबह लोगों की नज़र मूर्ति पर पड़ती है,गांव के लोगों ने देखा कि मंदिर के पास अवस्थित मठ के पीछे मूर्ति फेंकी हुई है,मूर्ति देखने वास्ते लोगों की भींड़ जुट गयी,लेकिन लोग यह देख आवाक रह गए कि दोनों मूर्ति खंडित है,फ़िर पुलिस को सूचना मिली और पुलिस द्वारा उक्त मूर्ति को फॉरेंसिक जांच के निमित ले जाया गया,साथ ही साथ पुलिस द्वारा छापामारी अभियान को और तेज़ करते हुए चार संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया गया,जिनसे जब पूछताछ हुई तो सभी ने मूर्ति चोरी की घटना को स्वीकार किया,चोरों द्वारा बताया गया कि गरदाहा मंदिर के साथ साथ उनके द्वारा ही सेमौरा और खरौंधा मंदिर से भी मूर्तियों की चोरी की गयी थी।

पलामू के चोर:- मूर्ति की चोरी और चोरों की गिरफ़्तारी को ले कर जिला और सुदुर राज्यों में भी हुआ बहुत शोर,पर आज ज्ञात हुआ कि गढ़वा की मूर्तियों को चुराते हैं पलामू के चोर",जी हां आज जिन चार चोरों को पुलिस द्वारा गिरफ़्तार किया गया वो सभी पलामू जिले से ताल्लुक रखते हैं,जिले के डंडिला गांव निवासी दिलकश रौशन के नेतृत्व में चोरों द्वारा चोरी की घटना को अंज़ाम दिया जाता था,चोरों के सरदार दिलकश के साथ साथ गिरफ़्तार हुए उनके तीन अन्य सहयोगियों में महताब,अरसद और चंचल का नाम शामिल है,गिरफ़्त में आये चोरों की निशानदेही पर खरौंधा मंदिर से चोरी की गयी मूर्ति का अवशेष के साथ साथ मोबाइल फोन बरामद किया गया।

गिरफ़्तारी में इनकी रही अहम भूमिका:- चोरी की घटना को एसपी अंजनी कुमार झा द्वारा गंभीरता से लिया गया था,जहां एक तरफ़ वो ख़ुद मंदिर पहुंच जायज़ा लिए थे वहीं एसडीपीओ अवध कुमार यादव के नेतृत्व में एक टीम गठित की गयी थी,उक्त टीम द्वारा ही अथक मेहनत करते हए चोरों को गिरफ़्तार करते हुए चोरी मामले का ख़ुलाशा किया गया,टीम में एसडीपीओ के अलावे मझिआंव इंस्पेक्टर संजय खाखा,थाना प्रभारी कांडी फैज रब्बानी,सुधीर कुमार दास,नीतीश कुमार,संजय कुमार,नीरज कुमार,विकास कुमार,मुकेश कुमार एवं पंकज सिंदुरिया मुख्य रूप से शामिल रहे।

Total view 1505

RELATED NEWS