Bindash News || जब उससे कबूल है कहलवाया गया होगा
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

जब उससे कबूल है कहलवाया गया होगा

Bindash News / 30-04-2022 / 1514


यह तो लव-जिहाद ही कहलायेगा न.?


आशुतोष रंजन
गढ़वा

अभी कुछ रोज़ पहले हमने एक ख़बर लिखा था,जिसका शीर्षक था वो तो कोचिंग गयी थी,और ग़ायब हो गयी,उस ख़बर से आपने जाना था कि झारखंड के गढ़वा जिला मुख्यालय में रहने वाली एक लड़की जो अपने घर से कोचिंग क्लास करने निकली थी,जो घर को नहीं लौटी,घरवाले जब अपने स्तर से काफ़ी खोजबीन कर के हार गए,और मालूम नहीं चल पाया तो उनके द्वारा शहर थाने में पांच लोगों के विरुद्ध नामज़द प्राथमिकी दर्ज़ करायी गयी,पुलिस को बताया गया कि वो ग़ायब नहीं हुई है बल्कि इनलोगों के द्वारा उसका अपहरण किया गया है,उधर पुलिस भी रेस हुई,एसपी अंजनी कुमार झा द्वारा भी इस मामले की गंभीरता को देखते हुए एक टीम का गठन किया गया,और प्राथमिकी दर्ज़ होने के 48 घंटे के अंदर ही उक्त टीम द्वारा जहां एक ओर उक्त अपहृत लड़की को बरामद कर लिया गया,साथ ही तीन अपहर्ता सोनपुरवा मोहल्ला निवासी जुगनू कुरैसी,बाबर कुरैसी और रजिया खातून को भी गिरफ़्तार कर लिए गए,लेकिन इन गुज़रे 48 घंटों में उस अबला के ऊपर अपहर्ताओं द्वारा क्या सितम ढाया गया होगा इसे ना तो हम आप शब्दों में बयां कर पाएंगे और ना ही वो अबला भी उसे कह पाएगी,क्योंकि उसके आंखों के सामने जब जब वो दृश्य सदृश्य होगा वो सिहर सी जाएगी,आख़िर क्यों,आइये आपको बताते हैं।

जब उसने उस अबला से कबूल है कहलवाया होगा:- शरीर हो गयी होगी बेज़ान सी,ज़ुबान पूरी तरह हक़लाया होगा,जब उसने उस अबला से कबूल है कहलवाया होगा",जी हां सूत्रों से जो जानकारी मिल रही है उसके अनुसार आप यहां उस पल को ख़ुद से महसूस कीजिये जब उन अपहर्ताओं द्वारा अपहृत लड़की से निक़ाह करने की बात कही गयी होगी,जड़वत हो गए होंगें देंह उसके और ज़ुबान ख़ुद सील गए होंगें,ऐसे विषम हालात में निश्चित रूप से वो इनकार में सर हिलायी होगी,पर उसे डराते और धमकाते हुए उससे ज़बरन क़बूल है कहलवाया गया होगा।

जो हैं फ़रार:- वो भी होंगें गिरफ़्तार जो हैं फ़रार", लड़की के पिता द्वारा कुल पांच लोगों के विरुद्ध नामज़द प्राथमिकी दर्ज़ करायी गयी थी,जिसमें से एक महिला सहित तीन अपहर्ताओं को पुलिस द्वारा गिरफ़्तार किया गया है,जबकि दो अभी फ़रार हैं,जिनकी गिरफ़्तारी के लिए पुलिस टीम छापेमारी कर रही है,बहुत जल्द उन दो अपहर्ताओं को भी गिरफ़्तार कर लिया जाएगा।

क्या सदमे से ऊबर पायेगा परिवार:- मामला सामने आने के बाद बिना एक क्षण गवाएं पुलिस द्वारा त्वरित कार्रवाई शुरू की गयी और अपहृत की बरामदगी के साथ साथ पांच में से तीन अपहर्ताओं को गिरफ़्तार भी कर लिया गया,बाक़ी बचे दो अन्य आरोपी जो फ़िलवक्त फ़रार हैं,उन्हें भी गिरफ़्तार कर लिया जाएगा,और जहां एक ओर पुलिस द्वारा मामले का ख़ुलाशा कहा जायेगा तो वहीं दूसरी ओर हम पत्रकार भी एक मात्र ख़बर के रूप में लिख कर ज़िम्मेवारी का इतिश्री कर लेंगें,लेकिन यहां ज़रा हम आप अपने दिल पर हांथ रख कर और अपनी बहन और बेटी के चेहरे को नज़र करते हुए दिली संज़ीदगी से सोचिए कि क्या वो अबला भूल पाएगी वो मंज़र,क्या सदमे से ऊबर पायेगा परिवार.? यह एक बड़ा सवाल है जो नाजवाब है।


 

Total view 1514

RELATED NEWS