Bindash News || भवन रहा छोटा पर भाजपा ने लक्ष्य बड़ा पाया
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

भवन रहा छोटा पर भाजपा ने लक्ष्य बड़ा पाया

Bindash News / 04-06-2022 / 432


राम ने बनाया काम,अब पार्टी गढ़ेगा नया आयाम


आशुतोष रंजन
गढ़वा

सच कहा गया है कि एक रोज़ वक्त बदलता है,आप लाख विपरीत हालात से गुज़र रहे हों,और उस गुज़रते वक्त में आपको अहसास हो रहा हो कि काश यह वक्त बदल जाता,पर हम सबों को इल्म नहीं होता है कि आज का यह विषम वक्त एक रोज़ ज़रूर बदलेगा,जैसा कि झारखंड के गढ़वा में भाजपा का बदलने जा रहा है,अब आप कुछ और मत सोचने लगियेगा,दरअसल कारण कुछ यूं है,आख़िर किस रूप में वक्त बदल रहा है,आइये आपको बताते हैं।

गढ़वा भाजपा का वक्त बदलने जा रहा है:
- हमें अपने ख़बर के हेडिंग के अनुसार आपको बताना है कि आख़िर गढ़वा भाजपा का वक्त कैसे बदलने जा रहा है तो आप अगर गढ़वा से ताल्लुक रखते हैं या राजनीति से जुड़े हुए हैं तो इस जानकारी से आप बख़ूबी वाकिफ़ हैं कि भाजपा देश की बड़ी पार्टी जरूर है पर अब तलक राज्य के इस जिले में पार्टी का कार्यालय एक छोटे से भवन में ही चलता आ रहा है,पूरे नेता को भी एक साथ बैठने की महफ़ूज जगह से महरूम रहा कार्यालय,लेकिन अब शायद यह गुज़रे दिनों की बात हो जाएगी क्योंकि अब कुछ ही समय के बाद पार्टी का एक बड़ा,भव्य और सभी सुविधाओं से युक्त अपना कार्यालय होगा,5 जून को पार्टी के केंद्रीय अध्य्क्ष जेपी नड्डा उक्त कार्यालय भवन निर्माण की ऑनलाइन शिलान्यास करेंगें,जबकि इस मौक़े पर पार्टी के सभी नेता कार्यक्रम स्थल पर मौजूद रहेंगे।

राम ने बनाया काम:- अब यहां तो लिखना बनता ही है कि बिना राम के काम नहीं होता है,हम बात यहां त्रेता वाले राम की नहीं इस कलियुग वाले राम की कर रहे हैं,अरे भाई हम पूर्व मंत्री सह विश्रामपुर से वर्तमान भाजपा विधायक रामचंद्र चंद्रवंशी की कर रहे हैं,अब क्यों कर रहे हैं और इससे इनका क्या ताल्लुक है तो आपको बताऊं की इससे इनका बहुत गहरा रिश्ता है,हम ऐसे ही थोड़े लिख दिए की राम ने बनाया काम,आपको बताएं की विधायक रामचंद्र चंद्रवंशी द्वारा ही वह ज़मीन उपलब्ध करायी गयी है जिस पर पार्टी कार्यालय के भव्य भवन का निर्माण होगा,यहां बताएं कि यह वही विधायक हैं जिनके द्वारा अपने विधानसभा क्षेत्र में विकास की बुनियाद रखी गयी,सरकारी नौकरी को छोड़ राजनीति में आने के बाद पहली बार 1995 में विश्रामपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक और अविभाजित बिहार में मंत्री बनने के बाद इनके द्वारा ही अविकसित क्षेत्र को विकसित करने की शुरुआत की गयी,जिसका सिलसिला अब तलक अनवरत ज़ारी है,क्षेत्र विकास को ही अपना मुख्य मक़सद मानने वाले विधायक द्वारा अनगढ़ क्षेत्र को सलीके और करीने से गढ़ा जा रहा है,लाख व्यवधान और बाधा आने के बाद भी नाम के अर्थ को सार्थक सिद्ध करते हुए तनिक भी विचलित नहीं होने वाले विधायक रामचंद्र चंद्रवंशी ने साबित कर दिया कि "गर राह में पड़े पर्वत को हौसले से तोड़ दो,रोकती हो राह दरिया तो धार उसकी मोड़ दो,है नज़रों में मंज़िल तो पहुंचना आसान है,हम अकेले हैं कहां,संग मेरे आवाम है।"

पर हर वक्त लक्ष्य बड़ा पाया पार्टी ने:- अमिताभ बच्चन द्वारा बोला गया एक संवाद याद आता है कि घर बड़ा बनाने से आदमी बड़ा नहीं होता,यह पंक्ति गढ़वा भाजपा के कुशल कार्यशैली पर सटीक बैठता है,वो ऐसे की एक बड़े और भव्य भवन निर्माण की शुरुआत तो आज इतने सालों बाद होने जा रहा है,पर यहां सोचने के साथ साथ ज़ेहन पर ज़ोर दे कर याद करना होगा कि अब तलक पार्टी कार्यालय का भवन भले छोटा रहा पर पार्टी के सामने आया वो कौन सा बड़ा लक्ष्य रहा जिसे पार्टी ने ना पाया हो,तभी हमने लिखा कि भवन छोटा रहा पर पार्टी हर बड़े लक्ष्य को पाया,यहां सोचना लाज़िमी है कि अब तलक कितने संसदीय और विधायी चुनाव हुए जिसमें सफ़ल होने की सारी रणनीति छोटे कमरे रूपी कार्यालय में ही बनी,लेकिन ना तो कार्यकर्ता और ना ही किसी नेता के मन में यह भावना आयी कि हम कहने को एक बड़े पार्टी में हैं लेकिन अफ़सोस हमारे पास अपना एक बड़ा कार्यालय तक नहीं है,ऐसी हीन भावना से कोसो दूर रहते हुए पार्टी नेताओं द्वारा हर बड़े लक्ष्य को साधने के लिए छोटे कमरे में ही नीति बनी और हर रणनीति कामयाब हुई,अब तो पार्टी का अपना सुव्यवस्थित भवन होने जा रहा है,ऐसे में यह कहना वाज़िब होगा कि जब छोटे कमरे से बड़े लक्ष्य पाए गए तो बड़ा और भव्य भवन किस रूप में कमल खिलायेगा यह तो सोचने वाली और अन्य पार्टियों के लिए सहमने वाली बात है।

Total view 432

RELATED NEWS