Bindash News || मत कसना "फब्ति", ना करना "छेड़खानी", कार्रवाई कर रहीं "मैडम शिवानी"
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

मत कसना "फब्ति", ना करना "छेड़खानी", कार्रवाई कर रहीं "मैडम शिवानी"

Bindash News / 26-10-2018 / 1832


गढ़वा में चल रहा ऑप्रेशन मनचला
अभिभावक समझें खुद की भी जवाबदारी:एसपी
 
आशुतोष रंजन
गढ़वा
 
अब मत कसना फब्तियां,ना करना छेड़खानी,सीधे कार्रवाई कर रही हैं मैडम शिवानी",यह हम नहीं कह रहे बल्कि आज गढ़वा के उन युवकों के जबान से बरबस निकल रहा है जो मनचलों के मानिंद गढ़वा के सड़कों पर लड़कियों को देख फब्तियां कसते थे,और करते थे छेड़खानी,लेकिन आज मैडम का डर ऐसा की वैसे युवक या तो सड़क पर निकल नहीं रहे,कहीं निकल भी रहे तो डर डर के।
 
चल रहा ऑप्रेसन मनचला:- सीधी सड़कों पर गर जो उल्टा चला,लिए जाओगे पकड़,क्योंकि गढ़वा में चल रहा ऑप्रेसन मनचला",जी हां स्कूल,कॉलेज के साथ साथ कोचिंग में पढ़ने वाली युवतियों के साथ साथ उनके अभिभावकों द्वारा जिले की एसपी शिवानी तिवारी को शिकायत मिल रही थी कि गढ़वा के सड़कों पर लड़कियों का चलना दूभर हो गया है क्योंकि मनचलों द्वारा तेज बाइक चलाते हुए फब्तियां कसी जाती हैं और कहीं कहीं तो छेड़छाड़ किया जाता है,शिकायत के आलोक में एसपी द्वारा एक टीम का गठन किया गया और शुरू किया गया ऑप्रेसन मनचला,आज आलम है कि प्रतिरोज़ शहर के कई मोहल्लों से वैसे मनचले युवक पकड़े जा रहे हैं।
 
बाप हो रहे शर्मिंदा:- बेटे कर रहे काम गंदा,बेचारे बाप हो रहे शर्मिंदा",आज जबसे गढ़वा में ऑप्रेसन मनचला चालाया जा रहा है तब से लगातार वैसे युवक पकड़ में आ रहे हैं,जिन्हें पुलिसिया पकड़ से उनके गार्जियन के आने के बाद छोड़ा जा रहा है,लेकिन इन सारे कवायदों के बीच यह देखने को मिल रहा है कि बेटे के कारण बेचारे बाप को भरे समाज मे शर्मिंदा होना पड़ रहा है।
 
रहेगा ऑप्रेसन जारी:- जब तलक ठीक नहीं होगा बीमारी,रहेगा ऑप्रेसन जारी",कुछ इस अंदाज में अपनी भावना ज़ाहिर करते हुए एसपी शिवानी तिवारी ने कहा कि उस तरह के मनचले युवकों में एक तरह की बीमारी घर कर जाती है,बस उसी बीमारी को ठीक करने के लिए इस ऑप्रेसन को शुरू किया गया है,जब तक बीमारी ठीक नहीं हो जाता है तब तलक ऑप्रेसन चलता रहेगा,साथ ही एसपी ने अभिभावकों से भी अपील करते हुए कहा कि अभिभावक अपने बच्चों की गतिविधि पर कड़ी नजर रखें,उसके घर से निकलने और वापस लौटने के वक्त पर ज्यादा ध्यान दें,साथ ही अगर वह स्कूल,कॉलेज और कोचिंग में पढ़ने वाला छात्र है तो उसके तीनों जगह के समय पर गौर करें,और अगर उस समय से जुदा वह बाहर जा रहा है तो उससे पूछताछ करें,केवल पुलिस प्रशासन द्वारा कार्रवाई करने से नहीं होगा अभिभावक अपनी भी जिम्मेवारी समझें।
 
 

 

Total view 1832

RELATED NEWS