Bindash News || ना होई "बेकार" जिला आवल,अब हुजूर दीहें "चावल"
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

ना होई "बेकार" जिला आवल,अब हुजूर दीहें "चावल"

Bindash News / 01-11-2018 / 919


खा कर सभी करें परवाज़,डीसी ने उपलब्ध कराया अनाज

 
भूखा ना रहे कोई ग़रीब,चावल रहे सबके करीब:उपायुक्त
 
आशुतोष रंजन
 
गढ़वा
 
दु मुट्ठी अनाज ख़ातिर अब केहू के बेकार नाहीं होई जिला आवल,काहे की हुजूर दीहें चावल",हमारे द्वारा कहे गए इस बात को आपने समझा,क्या नहीं समझा तो आइए आपको सीधे रूप में बता दूं कि बरसात ना हो तो गढ़वा सूखा की चपेट में आ जाता है आप इससे दशकों से वाकिफ़ हैं लेकिन इससे भी नावाक़िफ़ नहीं हैं कि बरसात होने के बाद भी गढ़वा सूखा झेलता है क्योंकि बरसात होने के बाद लोग धान का रोपा कर देते हैं लेकिन जब उसे तैयार होना होता है उस वक्त बरसात के नहीं होने से उक्त रोपा सुख जाता है और फसल मारे जाने से सूखा पड़ जाता है,कमोवेश इसी स्थिति से गढ़वा इस बार दो चार हो रहा है,जहां लोग धान की फसल पानी बिना सुख जाने के कारण सूखा के जद्द में आ गए हैं,बड़े काश्तकार तो किसी प्रकार काम चला रहे हैं लेकिन मध्यम और छोटे किसानों की स्थिति विकट हो गयी है,जिनके सामने परिवार को कहां से खिलाएं ऐसी विषम स्थिति आ खड़ी हुई है,उसी स्थिति से अवगत होने के उपरांत लोगों को हर तरह से सहायता उपलब्ध कराने को कटिबद्ध गढ़वा उपायुक्त हर्ष मंगला द्वारा जिले के असहाय लोगों के लिए चावल की पर्याप्त व्यवस्था करायी गयी है,कहां और कैसी है व्यवस्था जानने के लिए पढिये यह रिपोर्ट
दे कर अनाज दूर करेंगें सूखा:- नहीं रहेगा कोई भूखा,दे कर अनाज दूर करेंगें सूखा",जी हां फसल मारे जाने के कारण सूखा की स्थिति को झेल रहे गढ़वा का कोई भी गरीब असहाय भूखा ना रहे इस लिहाज़ से लोगों की परिस्थिति को दिली संज़ीदगी से महसूस करते हुए डीसी हर्ष मंगला द्वारा अनाज उपलब्धता के कई प्रयास किये गए हैं,जहां एक तरफ़ गांव के लोगों को चावल की परेशानी ना हो इसलिए जिले के सभी पंचायतों में पर्याप्त राशि उपलब्ध करा दी गयी है,उधर शहरी मुख्यालय में नगर निकाय को भी अभावग्रस्त लोगों को चावल देने के लिए राशि दे दी गयी है,साथ ही साथ जिला आपूर्ति पदाधिकारी के पास भी सुविधा उपलब्ध है,उधर आपूर्ति पदाधिकारी को इस सुविधा के बाबत लोगों के बीच संदेश पहुंचाने की जिम्मेवारी भी दी गयी है।
 
साहब ने खोल दिया है निजी कोष:- अब अनाज नहीं मिलने का किसी को नहीं होगा अफ़सोस,चावल आपूर्ति के लिए साहब ने खोल दिया है निजी कोष",जी हां सहृदयी उपायुक्त हर्ष मंगला द्वारा गढ़वा के ग़रीब अभावग्रस्त लोगों को चावल उपलब्ध कराने के लिए अपना निजी कोष खोल दिया गया है,बिंदाश न्यूज़ को जानकारी देते हुए उपायुक्त ने बताया कि जो भी वैसे लाचार और अभावग्रस्त लोग जिन्हें चावल की जरूरत हो वो मेरे कार्यालय पहुंच कर मेरे ओएसडी से संपर्क कर पांच-सात किलो चावल पा सकते हैं,साथ ही कहा कि लोगों की सुविधा के लिए जिले के पंचायत और नगर निकाय में भी चावल के लिए राशि उपलब्ध करा दी गयी है,इन सारे कवायदों का बस एक ही मक़सद है कि "चावल रहे सभी के करीब,भूखा ना रहे कोई ग़रीब।"
 

Total view 919

RELATED NEWS