Bindash News || "डी कंपनी" पर गोली चलाने वाला कुख्यात अपराधी ''गिरफ़्तार''
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

"डी कंपनी" पर गोली चलाने वाला कुख्यात अपराधी ''गिरफ़्तार''

Bindash News / 21-11-2018 / 1759


अपराध और अपराधी को कर दूंगा जमींदोज:ओमप्रकाश

 
आशुतोष रंजन
 
गढ़वा
 
गढ़वा में पुलिस को उस वक्त एक बड़ी सफ़लता हांथ आयी जब किसी घटना को अंजाम देने की योजना बनाते पलामू प्रमंडल का कुख्यात अपराधी पवन शर्मा गिरफ्त में आया,क्यों कुख्यात है पवन और कहां से हुई गिरफ़्तारी जानने के लिए पढ़िए यह रिपोर्ट
 
लुटेरा से अपराधी बना पवन:- पुलिस अधिकारियों के पीछे चेहरा ढंके और हंथकड़ी में जकड़ा अपने एक सहयोगी के साथ खड़ा यही है पवन शर्मा जो आतंक का पर्याय बना हुआ था,जिले के कांडी थाना क्षेत्र में छोटे-मोटे सड़क लूट से आपराधिक जीवन की शुरुआत करने वाला पवन शर्मा अपने जिला ही नहीं बल्कि प्रमंडल का कुख्यात अपराधी बन गया,बड़ा सड़क लूट के साथ साथ अपहरण और हत्या जैसा अपराध करना उसका मुख्य आपराधिक पेशा बन गया।
 
जब डी कंपनी को बनाया निशाना:- उधर अपराध के क्षेत्र में नामवर होने के बाद वह अपना वर्चश्व स्थापित करने के लिए पूर्व से कायम बड़े आपराधिक गिरोह को रास्ता से हटाने की योजना बनाने लगा जिसके पहली कड़ी में उसके द्वारा डी कंपनी यानी पलामू के डॉन कहे जाने वाले डब्लू सिंह गिरोह के सदस्य को गोली मारी,जिसके पीछे का उसका मकसद था गिरोह को ख़त्म कर खुद को एक बड़े अपराधी के रूप में स्थापित करना।
 
लेकिन हो गया गिरफ़्तार:- अपराध की दुनिया में तेजी से उसकी बढ़ी थी रफ़्तार,लेकिन वह हो गया गिरफ़्तार",जी हां पलामू प्रमंडल के कई इलाकों में अपराध की कई घटनाओं को अंजाम दे कर अपराध की दुनिया मे शिरमौर होने का ख्वाब देखने वाले पवन को आज पुलिस ने मिले गुप्त सूचना के आधार पर कांडी थाना क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया,उसके पास से पुलिस को पिस्तौल,गोली और मोबाइल बरामद हुआ।
बस एक ही है मकसद:- अपराध का ख़ात्मा करने के साथ साथ अपराधियों को जमींदोज करने के इरादे के साथ काम कर रही गढ़वा पुलिस के द्वितीय कमान अधिकारी यानी एसडीपीओ ओमप्रकाश तिवारी ने बताया कि पवन को गिरफ़्तार करने के लिए पुलिस काफी दिनों से प्रयासरत थी,जो आज उसकी और उसके सहयोगी की गिरफ़्तारी के रूप में सामने आयी।
 
इन्होंने किया गिरफ़्तार:- पवन के बावत पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि वह अपने सहयोगी के साथ हथियार से लैश हो कर किसी अपराध की घटना को अंजाम देने की योजना बना रहा है,उक्त सूचना के आलोक में पुलिस के वरीय अधिकारी द्वारा मझिआंव थाना प्रभारी विनय कुमार और कांडी थाना प्रभारी के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया,टीम द्वारा एक रणनीति के तहत छापामारी की गयी और अपराधी पवन को उसके सहयोगी के साथ गिरफ़्तार कर लिया गया।
 
 

Total view 1759

RELATED NEWS