Bindash News || था जो कल "बेनूर",देखिये कैसे हो रहा "विकास" से "पुरनूर"
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

था जो कल "बेनूर",देखिये कैसे हो रहा "विकास" से "पुरनूर"

Bindash News / 06-01-2019 / 1054


विकास हो रही हर घड़ी,गवाह बन रहा गांव मदगड़ी

 
सरकार का है यही प्रयास,हर पिछड़ा गांव करे पूर्ण विकास:सांसद
 
हो जब समय आपके पास उपयुक्त,हाजिर है आपके लिए यह उपायुक्त:डीसी
 
शुरू से गांव की सुरक्षा थी नज़रों में गड़ी,जब मैं पहुंची थी मदगड़ी:एसपी
 
आशुतोष रंजन
 
गढ़वा
 
हमने कुछ ही दिनों पहले एक खबर आपको पढ़ाया था जिसका शीर्षक था "विकास की हो रही खुटागड़ी,गवाह बन रहा गांव मदगड़ी",आपको शायद अब याद आ गया होगा,दरअसल यह वही मदगड़ी गांव है जहां पहले नक्सलियों की हुकूमत चलती थी,यानी आम आदमी से ज़्यादा नक्सलियों की आवक हुआ करती थी,नतीज़ा था कि वह गांव अब तलक विकास से वंचित था,लेकिन नक्सली उन्मूलन के लिए बंदूक के साथ साथ विकास का रास्ता अख़्तियार करने वाला प्रशासन ने उक्त गांव को विकसित करने का बीड़ा उठाया और आज आलम है कि कालांतर में विकास नाम से महरूम गांव आज पूर्ण रूप से विकसित हो रहा है,किस रूप में विकसित हो रहा है गांव और आज एक कार्यक्रम आयोजित कर उस गांव को क्या क्या दिया प्रशासन ने आइये जानते हैं इस खास रिपोर्ट से-
 
आज हो रहा विकास से पुरनूर:- जो था कल विकास से दूर,आज हो रहा विकास से वह पुरनूर",जी हां गढ़वा जिले का बेहद नक्सल प्रभावित प्रखंड भंडरिया का सबसे सुदूर गांव मदगड़ी जहां के लोग नहीं जानते थे कि विकास क्या होता है,कैसे होते हैं अधिकारी वह इससे सर्वथा अनभिज्ञ थे,उन्हें बस ज्ञात था कि उनके लिए सबकुछ नक्सली ही हैं,क्योंकि उनसे सकारात्मक सोच छीन ली गयी थी,और उनके मन में नकारात्मक भाव को घर करा दिया गया था,लेकिन समय बदला और सबसे पहले गढ़वा जिला प्रशासन द्वारा उनके मन से नकारात्मकता के भाव को दूर किया गया,और उनके मन में प्रशासन के प्रति विश्वास जगाया गया,तत्पश्चात गांव में विकास कार्य शुरू किया गया,जिसका असर हुआ कि लोगों ने प्रशासन के सोच को हांथों हांथ लिया और विकास आगे बढ़ चला,जहां लोग पगडंडियों में चला करते थे आज वहां वो नए सड़क से गुजर रहे हैं,कच्चे और जर्जर सीलन भरे छोटे कमरों की जगह नए पक्के आवास बन गए हैं,अब लोग कुआं और नाले का पानी नहीं पीते क्योंकि उनके लिए शुद्ध पेयजल की व्यवस्था जो कर दी गयी है,अब कहां लोग ढिबरी युग में जीते हैं क्योंकि गांव में बिजली पहुंचा दिए जाने से घर से ले कर पूरा गांव दूधिया रौशनी से रौशन हो रहा है,साथ ही साथ वो सुरक्षा के दृष्टिकोण से भी पूरी तरह महफ़ूज रहें इस उद्देश्य से गांव में पुलिस पिकेट भी स्थापित कर दिया गया है,कुल मिला कर यह कहने में कोई हिचक नहीं है कि कल के मदगड़ी और आज के मदगड़ी में काफी असामनता है,जो संभव हो सका है जिला प्रशासन के सकारात्मक सोच से।
 
हुआ प्रतिमा का अनावरण:- आपको बताएं कि मदगड़ी गांव को शहीद नीलांबर-पीतांबर आदर्श गांव के रूप में विकसित किया जा रहा है,गांव में किस तरह युद्ध स्तर पर विकास किया जा रहा है इस बावत तो आपको ऊपर में बता ही दिया,अब आइये बताते हैं वहां आज क्या हुआ जब पलामू सांसद के साथ साथ पूरा प्रशासनिक महक़मा गांव पहुंचा,शहीद आदर्श गांव के रूप मदगड़ी पहचानित हो इस लिहाज़ से गांव कर मध्य में दोनो शहीद सहोदर भाई नीलांबर और पीतांबर की प्रतिमा बनायी गयी है,जिसका अनावरण आज सांसद बिडी राम के द्वारा किया गया।
 
वंसज हुए सम्मानित,असहाय को मिला कंबल:- गांव में आयोजित आज के कार्यक्रम में प्रतिमा अनावरण के उपरांत शहीद के वंसज देवनाथ सिंह को सम्मानित किया गया,साथ ही उन्हें हर तरह से सहयोग देने की बात सांसद और जिला प्रशासन द्वारा कहा गया,उधर गांव के असहाय,वृद्ध और दिव्यांग लोगों को कंबल प्रदान किया गया।
 
उन्हें मिल गया आवासीय पट्टा:- अब वो बताएंगें खुद का पता,क्योंकि उन्हें मिल गया आवासीय पट्टा",जी हां हम बात कर रहे हैं बूढ़ा पहाड़ के बूढ़ा गांव से नक्सलियों के चंगुल से पुलिस द्वारा छुड़ा कर लाये गए उन बाइस ग्रामीणों को जिन्हें आज जिला प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराए गए प्रति व्यक्ति चार डिसमिल जमीन का आवासीय पट्टा उक्त कार्यक्रम में दिया गया।
 
ओपी का हुआ उदघाटन:- गांव को विकसित किये जाने के साथ सुरक्षा के मद्देनजर पूरी तरह महफ़ूज रखने के ख्याल से गांव में ही ओपी का उदघाटन किया गया,जहां हर वक्त मौजूद रहने वाले पुलिसकर्मी गांव को सभी तरह से सुरक्षित रखेंगें।
 
 
हर पिछड़ा गांव करे पूर्ण विकास:- सरकार का है यही प्रयास,हर पिछड़ा गांव करे पूर्ण विकास",इसी पंक्ति के साथ अपने संबोधन की शुरुआत करने वाले आज के कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सांसद बिडी राम ने कहा कि वह चाहे राज्य की सरकार हो या केंद्र की भाजपा की सत्तासीन सरकार बात करने में नहीं काम करने में विश्वास करती है जिसका प्रमाण आज आप सबके सामने है कि किस तरह एक नक्सल प्रभावित गांव आज चहोमुखी विकास के साथ सुख चैन की ज़िंदगी बसर कर रहा है,साथ ही गांव को विकसित करने के लिए गढ़वा जिला प्रशासन को बधाई देते हुए कहा कि सरकार के प्रयासों को मूर्तरूप देते हुए उसके सोच को सकारात्मक भाव से सरजमीन पर उतार रही है।
 
आपके लिए हाज़िर है यह उपायुक्त:- हो जब समय आपके पास उपयुक्त,हाज़िर है आपके लिये यह उपायुक्त",जी हां कार्यक्रम के जरिये इस अंदाज में ग्रामीणों से मुख़ातिब होते हुए विकास की रूपरेखा तैयार करने और सरजमीन पर मूर्तरूप देने में अहम भूमिका निभाने वाले गढ़वा उपायुक्त हर्ष मंगला ने ग्रामीणों को जहां एक तरफ अब तक कार्यान्वित की गयी विकास योजनाओं की जानकारी दी,साथ ही और किन किन योजनाओं पर अभी काम करना बाकी है इससे भी उन्हें अवगत कराया,साथ ही साथ कहा कि आपको कभी भी जिला प्रशासन और मेरी सहयोग की जरूरत हो तो बस खुद का समय देखें उपयुक्त,क्योंकि आपके लिए हर वक्त हाज़िर है यह उपायुक्त।
 
जब मैं पहुंची थी मदगड़ी:- शुरू से ही इस गांव की सुरक्षा मेरी नज़रों में थी गड़ी,जब मैं पहुंची थी मदगड़ी",गढ़वा जिला में एसपी के रूप में अपने पदस्थापना के दूसरे दिन बूढ़ा पहाड़ और मदगड़ी पहुंचने वाली एसपी शिवानी तिवारी ने उस वक्त को याद करते हुए कहा कि उस दिन से ही मेरे मन में इन्हें पूरी तरह से सुरक्षा दिए जाने की बात घर कर गयी थी,और मुख्यालय लौटने के उपरांत जिसके निमित कार्य शुरू किया,जिसका नतीज़ा है कि आज मदगड़ी गांव में ओपी स्थापित हो गया,अब यह गांव पूर्ण रूपेण सुरक्षित है,साथ ही साथ एसपी ने कहा कि अब आपको ना तो किसी से भय खानी है और ना ही किसी के बहकावे में आना है,बस एक सुकून वाली जिंदगी बसर करनी है।
 
ये भी रहे मौजूद:- कार्यक्रम में एएसपी सदन कुमार,एसडीओ रंका संजय पांडेय,डीएसपी रंका विजय कुमार,बीडीओ और सीओ के साथ साथ भाजपा के प्रदेश मंत्री मनोज सिंह,आंनद सोनी,ठाकुर महतो,रूपनारायण सिन्हा,ईश्वरी पांडेय,तरसेला बाखला एवं प्रभा कुजूर सहित कई लोग मौजूद रहे।
 

Total view 1054

RELATED NEWS