Bindash News || जब तक मांग नहीं होगी पूरी,"अनसन" पर रहेंगें "कमलापुरी"
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

Economy

जब तक मांग नहीं होगी पूरी,"अनसन" पर रहेंगें "कमलापुरी"

Bindash News / 23-06-2019 / 1670


नहीं सुननी है कहानी,हमें तो चाहिए पानी:राजीव


आशुतोष रंजन 
गढ़वा
 
इस जानकारी से हम आप ही नहीं बल्कि राज्य और देश वाक़िफ़ है कि झारखंड का गढ़वा सूखा प्रभावित जिला है जहां एक तरफ सिचाई बिना पैदावार खेत बजंर रहा करते हैं वहीं दूसरी ओर पीने की पानी बिना लोगों के हलक सूखा करते हैं,लेकिन इसकी कसक यहां के निवासियों को होती है काश कभी अहसास सरकार और प्रशासन को होती तो आज स्थिति जड़वत नहीं होती,मेरे इतना कहने का मतलब अभी यह है कि समस्या से पीड़ित एक व्यक्ति गढ़वा जिले में अनसन पर बैठा हुआ है क्या है मांग पढ़िए इस रिपोर्ट में-
 
पर खुटा वहीं गाड़ेंगें:- एक बहुत ही प्रचलित कहावत है कि पंचायती मानत ही सरकार लेकिन खूंटवा ओहिजे गाड़ब",कहने का मतलब है कि हम आपकी बात बेशक सुन लेंगें लेकिन करेंगें वही काम जो करते आये हैं,कुछ यही हाल है जिले के बंशीधर नगर पंचायत का,जिसके जद्द में आने वाला लगभग चालीस चापानल लंबे अरसे से खराब पड़ा हुआ है लेकिन नगर पंचायत इस ओर से उदासीन बना हुआ है,नतीज़ा है की लोग बूंद बूंद पानी को तरस रहे हैं,बार बार मरम्मत की मांग करने के बावजूद सुनवाई शून्य है।
 
हमें तो चाहिए बस पानी:- अब नहीं सुननी है कोई कहानी,हमें तो चाहिए बस पानी",जी हां चापानल मरम्मती की मांग करते करते आजिज आ चुके युवा समाजसेवी राजीव कमलापुरी पिछले तीन चार दिनों से अनसन पर बैठे हुए हैं,उनका कहना है कि नगर पंचायत द्वारा क्षेत्र में किस तरह विकास कार्यान्वित कराया जा रहा है इसका अंदाज़ा इसी से लगाया जा सकता है कि जहां लोगों के हलक पानी के दो बूंद बिना सुख रहे हैं,हम सहित क्षेत्र के लोग खराब पड़े चापानलों की मरम्मत की मांग लगातार करते आ रहे हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है,पहले तो आश्वासन भी मिला करता था लेकिन अब कार्यालय जाने पर दुत्कार दिया जाता है,उधर अनसन के समर्थन में अनसन स्थल पर पहुंची महिलाओं ने कहा कि हमलोग केवल काम के दिन याद आते हैं यानी जब हमसे वोट लेना था तो हम सबकुछ थे आज उनका काम निकल गया तो पहचानते नहीं हैं,हमलोग पानी पिये बिना मरणासन हालात में हैं लेकिन कोइ देखने सुनने वाला नहीं है,उधर राजीव कहते हैं कि अब पूरी तरह आजिज हो कर हमने अनसन शुरू कर दिया है,जब तलक चापानल मरम्मती की मांग पूरी नहीं हो जायेगी तब तक हमारा अनसन जारी रहेगा।
 
 

Total view 1670

RELATED NEWS