Bindash News || "Bindash news" ख़ास ''मन" नहीं लगता तो "हथियार" बनाते हैं "लोग"
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

Economy

"Bindash news" ख़ास ''मन" नहीं लगता तो "हथियार" बनाते हैं "लोग"

Bindash News / 29-06-2019 / 1691


ऐसे भी लोग हैं यहां


आशुतोष रंजन 
गढ़वा
 
मन को चंचल कहा गया है वह कभी खुश होता है तो कभी उदास होता है,अक्सर देखा जाता है कि किसी का मन नहीं लगता है तो वो गाना सुनना पसंद करता है तो कभी मन को बहलाने के लिए कहीं घूमने चला जाता है,लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि मन नहीं लगता है तो लोग हथियार बनाना शुरू कर देते हैं,नहीं जानते हैं तो आइए आपको इस ख़बर के जरिए बताते हैं कि वह कौन सा जगह है जहां मन नहीं लगने पर हथियार बनाते हैं लोग।
 
ऐसे भी लोग हैं यहां:- कैसे कैसे लोग होते हैं और लोगों की भावना भी कैसी होती है यह तब अजीब लगता है जब उनके द्वारा कुछ अलग कुछ किया जाता है,अब इसी कारनामे को लीजिये जहां मन नहीं लगने पर उनके द्वारा हथियार बनाया जाने लगा,वह कौन सी जगह है यह जानने की आपमें उत्सुकता हो रही होगी तो आपको बताऊं की वह झारखंड का गढ़वा जिला है जहां मन नहीं लगने पर सही और वैध काम नहीं बल्कि लोग गलत और अवैध धंधा करना शुरू कर देते हैं।
 
ऐसे हुआ ख़ुलाशा:- मन नहीं लगने पर हथियार बनाने जैसी अजीबोगरीब जानकारी तब हुई जब अवैध हथियार बनाने वाले एक मिनी गन फैक्ट्री का गढ़वा पुलिस ने उदभेदन किया,कई निर्मित और अर्धनिर्मित हथियार,गोली और बनाने के उपकरण के साथ कारीगर भी गिरफ़्तार किये गए,कैसे बनाते हैं और आपके द्वारा बनाये गए हथियारों की आपूर्ति कहां कहां होती है इसकी समूल जानकारी देने के साथ साथ जब गिरफ्त में आये कारीगरों से पुलिस के वरीय अधिकारियों ने यह पूछा कि ऐसे कई काम हैं जिसे कर के आपलोग सुख चैन की ज़िंदगी जी सकते हैं लेकिन ऐसा काम क्यों करते हैं जो अवैध और ग़लत है,इस सवाल के जवाब में कारीगरों ने यह जरूर स्वीकारा की यह काम ग़लत है इसे नहीं करना चाहिए लेकिन फ़िर जो कहा वह अधिकारियों को सोचने पर मजबूर कर दिया,कारीगरों ने कहा कि क्या करें हुजूर आपकी बात मानते हैं कि यह काम ग़लत है इसे नहीं करना चाहिए,पर क्या करें "मन नहीं लगता है साहेब तो हमलोग हथियार बनाने लगते हैं।"
 

Total view 1691

RELATED NEWS