Bindash News || कोई ले रहा नेता से, वो लेंगें "जनता" से "आशीर्वाद"
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

Economy

कोई ले रहा नेता से, वो लेंगें "जनता" से "आशीर्वाद"

Bindash News / 01-10-2019 / 2217


मैं नेता नहीं बेटा हूं:भानु


आशुतोष रंजन
गढ़वा

अभी देश के दो राज्यों हरियाणा और महाराष्ट्र में चुनाव होने हैं लेकिन अगर राजनीतिक रूप से देखा जाए तो जितनी तैयारी झारखंड में देखी जा रही है उतनी शायद उन दो राज्यों में नहीं होगी क्योंकि यहां तो तय समय के अनुसार दिसंबर माह में चुनाव होना है लेकिन राजनीतिक गलियारे में तपिश कुछ ज़्यादा ही बढ़ी हुई है,झारखंड के हर जिले से खुद को चुनावी दावेदार बताते हुए राजनेताओं का राज्य मुख्यालय से ले कर देश मुख्यालय यानी दिल्ली तक दौड़ना जारी है सभी अपने अपने हिसाब से टिकट ख़ातिर लॉबिंग करने में जुटे हुए हैं,लेकिन इसी राज्य का एक विधायक ऐसा भी है जो रांची और दिल्ली जा कर नेताओं से अपना पीठ बाजबर्दस्ती थपथपवाने के बजाए जनता से आशीर्वाद लेने में जुटा है तभी तो कल उनके द्वारा एक बड़ा आयोजन किया गया है जहां वो सामूहिक रूप से जनता का आशीर्वाद लेंगें,कौन है वह विधायक आइये आपको इस खबर के जरिये बताते हैं।

जनता से लेंगें आशीर्वाद:- वो नेता से नहीं जनता से लेंगें आशीर्वाद",जी हां बड़े बड़े नामवर पदधारी राजनेताओं से आशीष लेने के बजाए जो जनता से आशीर्वाद लेंगें वो कोई और नहीं बल्कि भवनाथपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक भानु प्रताप शाही हैं,आपको यहां बताएं की कई माह की तैयारी के बाद कल उनकी पार्टी नवजवान संघर्ष मोर्चा द्वारा एक भव्य आयोजन किया जा रहा है,विधानसभा क्षेत्र के बंशीधर अनुमंडल मुख्यालय के गोसाइंबाग मैदान में आयोजित होने वाले कार्यक्रम का नाम जन आशीर्वाद रैली दिया गया है,इसी आयोजन के जरिये विधायक भानु अपने क्षेत्र की जनता से पुनः क्षेत्र के विकास निमित सत्ता में आने का आशीर्वाद मांगेंगे।

मैं नेता नहीं बेटा हूं:- चुनाव लड़ने वाले से ले कर जो सत्ता में हैं वो भी क्षेत्र को छोड़ राज्य की राजधानी से ले कर देश की राजधानी तक बड़े बड़े राजनेताओं के दर्शन को ले कर दौड़ लगा रहे हैं और आप यहां जन आशीर्वाद रैली कर रहे हैं,ऐसा पूछे जाने पर हाज़िर जवाबी विधायक भानु ने तपाक से कहा कि वो नेता हैं और मैं बेटा हूं,और बेटा जब कोई काम शुरू करता है तो अपने गार्जियन का आशीर्वाद लेता है,ऐसे में मेरे तो यही गार्जियन हैं तो मैं भला दिल्ली और दौलताबाद क्यों भटकता फिरूं,कहा कि जो भटक रहे हैं उनको भटकने दीजिये लोग नेता को नहीं अपने बेटा को ही आशीर्वाद देंगें।

Total view 2217

RELATED NEWS