Bindash News || अब हो जाएगा "सत्तापक्ष" का अंत, कह रहे "हेमंत"
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

Economy

अब हो जाएगा "सत्तापक्ष" का अंत, कह रहे "हेमंत"

Bindash News / 26-11-2019 / 839


हाथी नहीं उड़ गए विकास के अरबों रुपये


आशुतोष रंजन
गढ़वा

चुनाव प्रचार बंद होने से दो दिन पहले जेएमएम के स्टार प्रचारक हेमंत सोरेन ने गढ़वा में पार्टी प्रत्याशी मिथिलेश ठाकुर के पक्ष में आयोजित जनसभा के जरिये भाजपा पर जमकर हमला बोला,उनके द्वारा क्या क्या कहा गया आइये आपको इस खबर के जरिये सुनाते हैं।

 

पर गलत सुनना नहीं है गंवारा:- वो करते रहें गलत वारा न्यारा,पर गलत सुनना नहीं है गंवारा",जी हां हेमंत सोरेन द्वारा आज अपने संबोधन की शुरुआत सरयू राय प्रकरण से की गयी,कहा कि भाजपा में रहने वाला अगर कुछ गलत देखते हुए भी चुप रहे तो ठीक नहीं तो गलत नीतियों का विरोध करना उसके लिए बहुत बुरा साबित हो सकता है,इसके उदाहरण सरयू राय हैं,जिन्हें भाजपा ने मात्र इसलिए उम्मीदवार नहीं बनाया क्योंकि उनके द्वारा सरकार के गलत नीतियों का विरोध किया जाता था,साथ ही कहा कि भाजपा वह पार्टी है जिसे ग़लत करना सही लगता है जबकि उसे अपनों से उस कार्य को गलत ठहराना गंवारा नहीं होता।

फिर क्यों हुई गरीबों की भूख से मौत
:- दिया आपने रुपया बहुत,फिर क्यों हुई गरीबों की भूख से मौत",भाजपा के बड़े नेताओं के उन ज़बानी दावों पर बोलते हुए कहा कि इस चुनाव में जो भी नेता आ रहे हैं उनके द्वारा झारखंड सरकार को विकास के लिए करोड़ो रूपये दिए जा रहे हैं लेकिन सवाल उठता है कि आख़िर फिर यहां ग़रीबों की मौत भूख से क्यों हो रही है,साथ ही रोज़गार के बिना बेरोज़गारों को भटकना पड़ रहा है।

उड़ गए विकास के अरबों रुपये:- हांथी तो उड़ा नहीं,उड़ गए विकास के अरबों रुपये",कुछ साल पहले राज्य में हुए मोमेंटम झारखंड में सरकार द्वारा हाथी को प्रतीक चिन्ह के रूप में दिखाया गया था,उस वक्त मुख्यमंत्री द्वारा हाथी उड़ाने की बात कही गयी थी,उसी बात पर तंज कसते हुए हेमंत ने कहा कि जमीन पर चलने वाला हाथी तो उड़ा नहीं लेकिन राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जरूर मदमस्त हो कर उड़े,साथ ही कहा कि अब इस मदमस्त हाथी के पैरों में सीकड़ लगा कर छतीसगढ़ फेंक देना है।

Total view 839

RELATED NEWS