Bindash News || क्या अब "सांसद" बनेंगें "भानू"
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

क्या अब "सांसद" बनेंगें "भानू"

Bindash News / 09-09-2018 / 1559


 संघर्ष करे नवजवान,और राज करें बूढ़े
 करने को चुनाव फ़तह,मोर्चा शुरू कर दे मोर्चाबंदी
 नहीं हूं सरकार का सहयोगी:भानू
 
आशुतोष रंजन
 गढ़वा
 
क्या अब विधानसभा नहीं बल्कि लोकसभा में जायेंगें भानू,दो बार विधायक और मंत्री बनने के बाद अब क्या सांसद बनेंगें भानू,आज इस आसार को तब बल मिलता दिखा जब कार्यकर्ता सम्मेलन के बहाने विधायक भानू ने किया चुनावी आगाज़,आगे क्या कहा विधायक ने जानने के लिए पढ़िए यह खास रिपोर्ट
 
राज करें बूढ़े:- संघर्ष करे नवजवान और राज करें बूढ़े,उक्त पंक्ति के साथ वैसे राजनेताओं पर प्रहार करते हुए विधायक भानू ने कहा कि केवल भवनाथपुर विधानसभा नहीं बल्कि पलामू प्रमंडल के समस्याओं को ले कर नवजवान संघर्ष मोर्चा ने अपने नाम के अनुरूप संघर्ष किया बुलंदी से आवाज उठायी पर राज वैसे बूढ़ों ने किया जिन्हें पलामू की नहीं बल्कि अपनी चिंता थी,और उनके द्वारा विकास की नहीं बल्कि स्वार्थ की राजनीति की गयी,नतीजा हुआ कि कल का विकास से महरूम पलामू प्रमंडल आज भी उपेक्षित है।
 
मोर्चा शुरू कर दे मोर्चाबंदी:- करने को फ़तह चुनावी किला,मोर्चा शुरू कर दे मोर्चाबंदी",कुछ इसी अंदाज़ में आज अपने कार्यकर्ताओं को संगठन को और सुदृढ़ करने के साथ साथ चुनावी रण में विजय होने को ले कर मंत्र दिया,भानू ने सीधे रूप में खुद से स्वीकारते हुए कहा कि हमारा संगठन पहले से कुछ कमज़ोर हुआ है जिसे पूर्व की स्थिति में लाते हुए उसमें मजबूती लानी है क्योंकि अब हमें केवल एक सीट नहीं बल्कि 11 विधानसभा और दो लोकसभा सीट पर जीत हासिल करना है,अब हम सबों को चुनावी घोषणा का इंतजार किये बिना चुनावी रण को जीत लेने की तैयारी में जुट जाना है।
 
नाम लुटे कोई:- काम करे कोई और नाम लुटे कोई,पलामू में मेडिकल कॉलेज के बाबत बोलते हुए व्यंग्यात्मक लहज़े में भानू ने कहा कि अपने स्वास्थ्य मंत्रित्व काल में उनके द्वारा मेडिकल कॉलेज की मंजूरी दिला कर बुनियाद रखी गयी थी लेकिन आज नाम कोई और लूट रहा है,लेकिन खुद की वाहवाही खुद से करने वाले ज़रा इस बात का इल्म अपने से कर लेते की हमारे बुनियाद पर इमारत खड़ी करने में नौ साल देर क्यों हो गया।

नहीं हूं सहयोगी सरकार का:- क्या आप झारखंड में सत्तासीन सरकार के सहयोगी हैं के सवाल पर विधायक भानू प्रताप शाही ने कहा कि मैं किसी रूप में सरकार के ना तो साथ हूं और ना ही सहयोगी,हां यह बात जरूर है कि सरकार अगर बढ़िया काम करती है तो शाबाशी देता हूं,और कहीं गलत देखता हूं तो उस बाबत भी पुरज़ोर विरोध जताता हूं, तो भला मैं कैसे सरकार का सहयोगी हुआ।
 

 

Total view 1559

RELATED NEWS