Bindash News || गढ़वा के 11 मजदूरों का "अपहरण"
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

गढ़वा के 11 मजदूरों का "अपहरण"

Bindash News / 17-09-2018 / 1010


रोटी पाने का ख़्वाब हुआ चूर,बंधक हैं मजदूर
 
आशुतोष रंजन
गढ़वा
 
गांव में कोई काम नहीं होने के कारण बेक़ाम हांथ को काम मिलने की आस से सुदूर प्रदेश में काम कर भूख से अकुलाती क्षुधा को शांत करने के लिहाज़ से पहुंचे गढ़वा के 11 मजदूरों के अपहरण कर लिए जाने का मामला सामने आया है,कहां के हैं वो मजदूर और कहां हुआ उनका अपहरण जानने के लिए पढ़िए यह रिपोर्ट-

हुआ बहुत धोखा:- खोखा के मजदूरों के साथ हुआ बहुत धोखा",जी हां हम बात कर रहे हैं गढ़वा जिले के खरौंधी थाना क्षेत्र के खोखा गांव की,उक्त गांव सहित चंदना एवं हरिहरपुर के कुल 14 मजदूरों सोनू कुमार,संतोष चंद्रवंशी,बाबूलाल,नेपु लाल,सुग्रीम खरवार,राजेश खरवार,भोला,मनोज,सुजीत का अपहरण उस वक्त कर लिया गया जब वो एक ठेकेदार द्वारा काम दिलाने के लिए बुलाये गए थे,लेकिन अहमदाबाद पहुंचने के बाद उनकी मुलाकात ठेकेदार से नहीं हुई,वो निराश हो कर स्टेशन परिसर में ही बैठ गए,इसी बीच तीन लोग उनके पास आते हैं और उन्हें डराते धमकाते हुए अपने साथ ऑटो में बिठा कर ले जाते हैं,ले जाने के क्रम में ही तीन मजदूर ऑटो से कूद कर भाग जाते हैं,उन्हीं तीनों में से एक सोनू द्वारा सारा घटनाक्रम घर फोन कर के बताया गया है।
 
कैद हैं मजदूर:- दो वक्त की रोटी पाने का सपना हुआ चूर,जालिमों के कैद में हैं मजदूर",अपहरण कर ले जाये जाने के दौरान अपहर्ताओं के चंगुल से भागने वाले मजदूर सोनू ने बताया कि सभी ग्यारह मजदूरों को अहमदाबाद स्थित गांधीनगर के मंशा कंपनी में बंधक बना कर रखा गया है,जहां उनसे काम लिए जाने के साथ साथ बहुत यातनाएं भी दे जा रही हैं,उनसे उनका मोबाइल छीन लिया गया है,सभी ग्यारह मजदूरों में से चार चार को एक काम के लिए ले जाया जाता है,फिर देर रात उन्हें भूखा-प्यासा एक कमरे में बंद कर दिया जाता है,सोनू ने घर में फोन कर बताया की सभी बंधक मजदूर बहुत जिलालत भरा जीवन जी रहे हैं उन्हें छुड़ाना बहुत जरूरी है क्योंकि कभी भी उनके साथ कुछ अनहोनी घटना घट सकती है।

 
 

 

Total view 1010

RELATED NEWS