Bindash News || "मिथिलेश" कर रहे दिली प्रयास,यूं पूरी होने जा रही "विकास" की आस
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

"मिथिलेश" कर रहे दिली प्रयास,यूं पूरी होने जा रही "विकास" की आस

Bindash News / 24-06-2020 / 297


बिना लिए अवकाश,वो कर रहे विकास


आशुतोष रंजन
गढ़वा

उनका राज्य मुख्यालय में रहना हो रहा है,वो अपने विधानसभा क्षेत्र में नहीं आ रहे हैं,यहां विकास नहीं हो रहा है,ऐसा कहना हमारा नहीं बल्कि विपक्ष के नेताओं का है,जो उक्त बातें गढ़वा विधायक सह राज्य के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री के बावत कहा करते हैं,लेकिन मंत्री विकास को ले कर कितना संवेदनशील हैं और उनके द्वारा किस तरह क्षेत्र के विकास को ले कर दिली तन्मयता से प्रयास किया जा रहा है,उक्त जानकारी से आज उन्होंने खुद राजधानी में नहीं बल्कि गढ़वा जिला मुख्यालय में एक प्रेस वार्ता आयोजित कर अवगत कराया,उनके द्वारा क्या बताया गया,आइये आपको संख्यावार बताते हैं।

1:- कोविड-19 में लाॅक डाउन के दौरान विभिन्न राज्यों से प्रवासी मजदूरों को गढ़वा वापस लाया गया।

2:- लाॅकडाउन के दौरान जब केन्द्र सरकार द्वारा किसी भी व्यक्ति को आने-जाने पर पूर्णतः रोक लगा दी गयी,तब मुख्यमंत्री, हेमंत सोरेन की मदद से दूसरे राज्यों में फँसे गढ़वा के मजदूरों को वहाँ की सरकार से तालमेल बैठाकर उन्हें वहीं पर राशन एवं खाद्य सामग्री उपलब्ध कराया गया।

3:- जिन राज्य सरकारों से तालमेल नहीं बन पाया वहां फंसे  जिले के मजदूरों को निजी कोष से मंत्री द्वारा खाद्य सामग्री के लिए लाखों रूपये की राशि मजदूर समूहों को भेजा गया।

4:- गढ़वा जिले के सुदूरवर्ती क्षेत्रों के लिए जरूरतमंदों को चलंत  वाहन के माध्यम से भोजन उपलब्ध कराया गया।

5:- निजी प्रयासों से बी0सी0सी0एल0 रेहला से हजारो लीटर केमिकल एवं सैकडो बोरा ब्लीचिंग मंगा कर दमकल वाहन द्वारा गढ़वा शहर एवं सभी प्रखंड मुख्यालय को सेनेटाईज कराया गया।

6:- झा0मु0मो0 गढ़वा के सभी विंग के कार्यकर्ताओं को निर्देशित कर गढ़वा विधानसभा अन्तर्गत जरूरतमंद परिवारों को राशन सामग्री एवं भोजन पैकेट उपलब्ध कराया गया,ताकि उन्हें भुखमरी से बचाया जा सके।

7:- डंडा,रमकंडा एवं चिनियाँ, में कार्यरत झारखण्ड मुक्ति मोर्चा प्रखंड कमिटियों को निजी कोष से पचास-पचास हजार तथा रंका एवं मेराल प्रखंड कमिटियों को निजी कोष से आम जनता की आपातकालीन स्थिति में सहायता हेतु एक-एक लाख रूपये उपलब्ध कराया गया।

8:- गढ़वा विधान सभा क्षेत्र अन्तर्गत अपने निजी कोष से विभिन्न पंचायतों में सेनेटाईजर, मास्क,साबुन एवं गमछा वितरण कराया गया।

9:- जिलान्तर्गत मुख्यमंत्री गंभीर बीमारी योजना मद से दर्जनों मरीजों को ईलाज हेतु लाखों रूपये उपलब्ध कराये गये।

10:- देश के विभिन्न क्षेत्रों से पैदल आ रहे प्रवासी मजदूरों के लिए भरपेट भोजन एवं वाहन की व्यवस्था पार्टी कार्यकर्ताओं के माध्यम से कराई गई।

11:- निजी कोष से मुख्यमंत्री राहत कोष में एक लाख रूपये की राशि सहायता हेतु दी गई।

12:- धान क्रय केन्द्रों से बिचौलियागिरी समाप्त कर कृषकों को उपज का पूरा लाभ दिलाया गया,साथ ही मुख्यमंत्री से अनुरोध कर धान क्रय की अवधि बढ़वाई गई,जिससे राज्य में रिकार्ड तोड़ धान की खरीदारी हुई,गढ़वा- रंका विधानसभा क्षेत्र में पिछले वर्षो की अपेक्षा 31 प्रतिशत अधिक धान की खरीदारी की गई।

13:- गढ़वा को हटिया ग्रिड से जोड़ने हेतु स्पेशल टीम को काम पर लगाया गया है,जो लहलहे ग्रिड से भागोडीह ग्रिड को जोड़ने का कार्य 90 प्रतिशत पूरा कर चुके हैं,गढ़वा में बिजली आपूर्ति में क्रमिक सुधार जारी है।

14:- शहरी पेयजलापूर्ति योजना कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिया गया है,एवं कार्य धरातल पर लगातार जारी है।

15:- गढ़वा बाईपास निर्माण के लिए राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से सकारात्मक वार्ता हुई है,उनके सचिव जयंत दीक्षित से हुई वार्ता में जल्द निविदा प्रक्रिया पूर्ण करते हुए निर्माण कार्य प्रारंभ करने का आश्वासन प्राप्त हुआ है।

16:- विधान सभा क्षेत्र अन्तर्गत हजारों जरूरतमंद परिवारों को जिनका राशनकार्ड कई वर्षो से स्वीकृति हेतु लंबित था उनका राशन कार्ड स्वीकृत कराया गया और सैकडों राशन कार्ड आवेदन स्वीकृति हेतु प्रक्रियाधीन है।

17:- मुख्यमंत्री मानवसेवा योजनान्तर्गत गढ़वा विधान सभा क्षेत्र के 2430 गरीब असहाय परिवारों के मुखिया के खाते में एक-एक हजार रूपये की राशि विधायक निधि से प्रदान की गई।

18:- जिला में पेयजल स्वच्छता प्रमंडल के माध्यम से 2691 (दो हजार छः सौ ईकानवे) नलकूपों की मरम्मति दिनांक 01 मार्च से 21.06.2020 तक कराई गई है।

19:- लाॅक डाउन की अवधि में 34 जरूरतमंद अधिवक्ताओं को निजी कोष से पच्चीस-पच्चीस सौ रूपयों की राशि उपलब्ध कराई गई है।

20:- गढ़वा जिले के प्रत्येक पंचायत में पाँच-पाँच नलकूपों के बोरिंग की प्रक्रिया जारी है,शीध्र कार्य प्रारंभ होने की संभावना है।

21:- लाॅक डाउन की अवधि में विधान सभा क्षेत्र अन्तर्गत सैकड़ों मुख्यमंत्री दीदी किचन दाल-भात केन्द्रों का सफलता पूर्वक संचालन कराकर हजारों गरीब, जरूरतमंद परिवारों को भरपेट भोजन उपलब्ध कराया गया।

22:- मुख्यमंत्री के संज्ञान में लाकर गढ़वा टाउन हाॅल के स्थान पर 540.00 लाख रूपये की लागत से एक बड़े और भव्य मल्टीपरपस हॉल यानी सुविधायुक्त ऑडिटोरियम निर्माण के स्वीकृति की प्रक्रिया प्रारंभ करायी गई है,जिसका निर्माण कार्य शीध्र प्रारंभ होगा।

23:- मुख्यमंत्री द्वारा पलामू प्रमंडल को विभिन्न योजनाओं का सौगात दिया गया,जिनमें (1) बिरसा हरित ग्राम योजना (2) नीलाम्बर-पीताम्बर जल समृद्धि योजना (3) पोटो हो खेल विकास योजना प्रमुख है,इन योजनाओं के माध्यम से पलामू प्रमंडल के हजारों मजदूरों को रोजगार प्राप्त होगा।

24:- राज्य सरकार के समक्ष प्रवासी मजदूरों को अपने क्षेत्र में ही रोजगार दिलाने के लिए मुख्यमंत्री रोजगार योजना का प्रारूप विचाराधीन है,इसकी स्वीकृति होते ही मजदूरों को अपने क्षेत्र में ही रोजगार की गारंटी मिलेगी,रोजगार उपलब्ध न होने की स्थिति में बेरोजगारी भत्ता दिए जाने का प्रावधान किया जा रहा है।

25:- गढ़वा सदर अस्पताल परिसर में महीनों से बंद पडे पेयजल आर0ओ0 प्लांट को निजी कोष से प्रारंभ कराकर मराजों के लिए शुद्ध पेयजल उपलब्ध करायी गई।

26:- राज्य सरकार को खाली खजाना विरासत में मिला है, इसके बाबजूद मुख्यमंत्री द्वारा कोविड-19 महामारी के दौरान पूरी क्षमता से स्वास्थ्य सुविधाएँ उपलब्ध कराने का कार्य किया जा रहा है,स्वास्थ्य सेवाएँ सुदृढ़ की जा रही हैं,राज्य में विभिन्न योजनओं को चलाने के लिए कार्य किया जा रहा है,जिससे किसानों,मजदूरों,बेरोजगारों को फायदा हो सके,कुछ दिनों में सरकार की योजनाओं का लाभ धरातल पर दिखाई देने लगेगा।

तो इस तरह बिंदुवार जानकारी दे कर मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने सभी को अवगत करा दिया कि किस तरह सरकार और उनके द्वारा गढ़वा विधानसभा क्षेत्र सहित संपूर्ण जिले को पूर्ण रूपेण विकसित किये जाने का प्रयास किया जा रहा है,ऐसे में तो यहां कहना बनता ही है कि,"देखो है उनकी नज़रों में विकास की मंजिल,तो पहुंचना आसान है,वो अकेले हैं कहां,संग उनके आवाम है।"

Total view 297

RELATED NEWS