Bindash News || नहीं छोड़ते किसी काम को शेष, ऐसे हैं नए डीसी "राजेश"
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

नहीं छोड़ते किसी काम को शेष, ऐसे हैं नए डीसी "राजेश"

Bindash News / 14-07-2020 / 2014


गढ़वा गढ़ेगा विकास में नित नया आयाम,है उनका यही पयाम


आशुतोष रंजन
गढ़वा

सरकारी नौकरी पेशा लोगों के लिए तबादला एक सतत प्रक्रिया है,कभी एक निश्चित अवधि तो कभी असमय भी उनका तबादला हो जाता है,हम यहां यह चर्चा इसलिए कर रहे हैं कि आज अपने राज्य झारखंड में कई जिलों के डीसी का तबादला हुआ,जिसमें गढ़वा डीसी का नाम शामिल है,लेकिन इस जिले में जिसकी पदस्थापना हुई है हम  बात उनकी करेंगें,आइये उनके बारे में वह बताते हैं जैसा कि उन्होंने Bindash News को यानी मुझे बताया।

ऐसे हैं नए डीसी राजेश
:- नहीं छोड़ते किसी काम को शेष,ऐसे हैं नए डीसी राजेश",जी हां मैं यह केवल कोई जुमला नहीं बोल रहा बल्कि उनकी कार्यशैली बयां कर रहा हूं जिनकी नए डीसी कर रूप में गढ़वा में पदस्थापना हुई है,जहां एक तरफ़ खुद को बदलाव का वाहक बताते हुए झारखंड में हेमंत सोरेन की सरकार सत्तासीन हुई है,ठीक उसी तरह अपने कार्यों के जरिये बदलाव करने के लिए जाने जाते हैं डीसी राजेश रंजन,आपको बताएं कि 2006 बैच के अधिकारी राजेश रंजन जिस भी पद पर रहे,अपने दायित्वों का बखूबी निर्वहन किया,बड़े कार्यों की बात कौन करे एक छोटे काम को भी आगाज से सफ़लता पूर्वक अंजाम तक पहुंचाने वाले अधिकारी के रूप में उनकी एक अलग पहचान राज्य में कायम है।

है उनका यही पयाम:- ज़्यादा तो नहीं,लेकिन जो भी कुछ उनसे हमारी बात हुई,तो उन्होंने कहा कि हमारा शुरू से मात्र यही ध्येय रहा है कि कोई आम व्यक्ति हो या कोई सरकारी सेवा में रत अधिकारी उसे जिम्मेवारी से मुंह नहीं मोड़ना चाहिए,बल्कि उक्त काम को दिली संज़ीदगी से पूरी करनी चाहिए,क्योंकि जहां एक ओर वह पूरा हुआ काम दिल को सुकून देगा वहीं दूसरी ओर मिली हुई सफ़लता उत्साह को भी दुगुना करेगा,साथ ही कहा कि विशेष बातें वहां आने पर होंगीं,लेकिन इतना जरूर कहूंगा कि वर्तमान गुजरते वक्त में सबको ध्यान वैश्विक महामारी कोरोना पर केंद्रित करना है,क्योंकि हम सभी को एकजुट हो कर इससे निजात पाना है,साथ कहा कि सबके सहयोग से गढ़वा गढ़ेगा विकास का नित नया आयाम,है अपना यही पयाम।

Total view 2014

RELATED NEWS