Bindash News || क्या पुलिस के हाथ से निकल रहा यह इलाक़ा.?
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

क्या पुलिस के हाथ से निकल रहा यह इलाक़ा.?

Bindash News / 31-10-2020 / 1007


आख़िर क्यों होती है बार बार वारदात


आशुतोष रंजन
गढ़वा

पुलिस प्रशासन द्वारा अनवरत किये जा रहे प्रयास से गढ़वा जिले में नक्सली और अपराधियों पर नकेल कसी जा रही है, लेकिन इसी जिले का एक ऐसा भी इलाका है जो शायद पुलिस प्रशासन के हांथों से निकलने जैसा प्रतीत होता है,तभी तो आये दिन किसी न किसी रूप में वहां वारदातों को अंजाम दिया जाता है,कौन है वह इलाक़ा जानने के लिए पढ़िए यह ख़ास रिपोर्ट-
 
आख़िर ऐसा क्यों है:- अपराधियों और गलत मंसूबे वालों के लिए वह इलाक़ा महफ़ूज भले हो लेकिन उस क्षेत्र में बसर करने वाले तो सहमें हालात में बस यही कहते हैं कि आख़िर ऐसा क्यों है.?, क्या प्रशासन का इस ओर ध्यान नहीं है या यह इलाका उनके जद्द से बाहर हो गया है,तभी तो स्वच्छंद विचरण करते हुए ग़लत इरादे वाले लोग अपने मंसूबे को सफ़ल बना रहे हैं,अब यहां आपको बता दूं कि वह इलाका है गढ़वा जिले का कांडी थाना क्षेत्र जहां आये दिन किसी न किसी रूप में अपराधी प्रवृति के लोग घटना को अंजाम दे दिया करते हैं,कभी कभी तो सीधे रूप में ऐसा प्रतीत होता है कि जैसे अनैतिक कामों की राजधानी हो कांडी क्षेत्र,जहां हर अनैतिक कार्यों का बखूबी संचालन होता है,अब बड़े पैमाने पर होने वाले अवैध शराब के धंधे को ही लें जिसकी आपूर्ति अपने जिले और राज्य सहित पड़ोसी राज्य बिहार और यूपी तक मे की जाती है,अब यहां स्वाभाविक है जहां शराब होगा वहां तो नियत खराब ही होगा,तभी तो चोरी और छिनतई जैसी घटना घटित होती है,इसके साथ साथ गोलीचालन और हत्या जैसी कई घटनाएं इसी इलाके के नाम दर्ज होती हैं,आपको यहां बताएं कि अपराधियों के लिए यह कांडी का इलाका इतना सेफ माना जाता है कि वह बाहर से किसी का अपहरण कर इसी इलाके में बेख़ौफ़ हो छुपाते हैं,अब कुछ अरसा पहले की उस घटना को ही लें जब एक महाराष्ट्र के ठेकेदार की हत्या कांडी में ही कर दी गयी थी,उसका शव अज्ञात रूप में एक नदी में पाया गया था,अब ताज़ा घटना की बात करें तो कल ही लमारी गांव निवासी नवीन नामक युवक से गांव से ही कुछ दूर पहाड़ी के करीब अज्ञात अपराधियों द्वारा छिनतई का प्रयास किया गया,जब वो अपने इरादे में कामयाब नहीं हुए तो युवक को गोली मार दी,जिसे इलाज हेतु परिजनों द्वारा जिला अस्पताल लाया गया,जहां से बेहतर इलाज के लिए उसे रांची रेफर कर दिया गया,जहां वह सैम्फोर्ड हॉस्पिटल में मौत से लड़ रहा है,इधर नवीन के परिजन सहित गांव के सैकड़ो ग्रामीण आज अहले सुबह कांडी थाना पहुंच प्राथमिकी दर्ज़ कराते हुए कहा कि सुनने में आता है कि जिले में पुलिसिया व्यवस्था बहुत चुस्त हुआ है,लेकिन यहां लगातार घटित हो रही घटना थाना पुलिस की सुस्ती और उदासीनता को परिलक्षित करने के लिए काफ़ी है।

 


Total view 1007

RELATED NEWS