Bindash News || गढ़वा में शिक्षा की "दीप" जला रहे "संदीप"
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

गढ़वा में शिक्षा की "दीप" जला रहे "संदीप"

Bindash News / 22-09-2018 / 736


इस कदर बढ़ा है ग्राफ,बच्चे मांग रहे ऑटोग्राफ़

 
आशुतोष रंजन
 
गढ़वा
 
अशिक्षा है ज़िंदगी का ज़ख्म जबकि शिक्षा है मरहम,जी हां इस सोच को हमेशा अपने दिल में आत्मसात कर सबको शिक्षा का महत्व बताने वाला एक पुलिस अधिकारी अपनी सरकारी सेवा की जिम्मेवारी का निर्वहन करने के साथ साथ वर्तमान पीढ़ी को शिक्षित होने का गुर सीखा रहा है,कौन है वह अधिकारी जानने के लिए पढ़िए यह रिपोर्ट-
 
शिक्षा का दीप जला रहे संदीप:- ना हो अशिक्षा का अंधियारा,आओ जलाएं शिक्षा का दिया,हो चहुंओर उजाला,जी हां इसी हौसले के साथ वर्तमान पीढ़ी को शिक्षा के प्रति जागरूक करने का पहल करने वाले उस अधिकारी का नाम है संदीप गुप्ता जो फ़िल्वक्त गढ़वा में डीएसपी मुख्यालय के पद पर काबिज़ हैं,पुलिस सेवा जैसे अतिव्यस्त नौकरी में रहने के बावजूद भी समय निकाल कर मुख्यालय के साथ साथ गांव-देहात में जा कर स्कूलों में बच्चों को पढ़ायी के प्रति जागरूक करते हैं साथ ही उनमें शिक्षा ग्रहण कर कुछ कर गुजरने की ललक पैदा करते हैं,उनके इस अनोखे पहल का असर भी सकारात्मक परिणाम के रूप में सामने आ रहा है,सुदूर देहात के जीन बच्चों में कल शिक्षा के प्रति अरुचि थी,आज उनमें रुचि जग रही है,और वो दिली मनोयोग से पढ़ायी करने में जुट रहे हैं।
 
बच्चों ने मांगा ऑटोग्राफ:- शिक्षा के प्रति जागरूकता का उनका इस क़दर बढ़ा है ग्राफ़,मांग रहे बच्चे ऑटोग्राफ़",डीएसपी संदीप गुप्ता द्वारा पढ़ायी के लिए बच्चों में जागरूकता पैदा करने का इतना असर बच्चों पर हुआ है कि गांव के बच्चे भी उनके फैन हो कर उनका ऑटोग्राफ़ मांगने लगे हैं,कल गुजरे मुहर्रम के पहलाम के वक्त पुलिसिया दायित्व निभाने यानी विधि व्यवस्था देखने के मद्देनजर डंडई प्रखंड क्षेत्र के तसरार गांव पहुंचे डीएसपी को बच्चों ने घेर लिया और उनसे ऑटोग्राफ़ मांगा,अधिकारी द्वारा भी बच्चों को ऑटोग्राफ़ देने के साथ बच्चों से अपने संकल्प पर कायम रहते हुए पढ़ायी करने और एक अच्छा नागरिक बनने का जोश भरा गया,उधर बच्चे भी मुहर्रम से ज़्यादा अशिक्षा के ज़ख्म पर शिक्षा रूपी मरहम लगाने का गुर सीखते रहे।
 
 

Total view 736

RELATED NEWS