Bindash News || पुलिस नहीं थी मौन, तभी तो पकड़ी गयी लेडी डॉन
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

पुलिस नहीं थी मौन, तभी तो पकड़ी गयी लेडी डॉन

Bindash News / 12-05-2021 / 1695


संदर्भ: बस स्टैंड में हत्या

आशुतोष रंजन/आनंद सिन्हा
गढ़वा

इस कोरोना के विषम दौर में बीमारी से कहीं ज़्यादा पिछले चौदह रोज़ से झारखंड के गढ़वा में जिस बात को ले कर चर्चा हो रही थी,वह यह थी कि आख़िर हत्यारे गिरफ़्तार क्यों नहीं हो रहे हैं,दरअसल गुज़रे 29 अप्रैल को बस स्टैंड में गोलीबारी हुई थी जिसमें एक बस एजेंट की मौत स्टैंड में ही जबकि एक अन्य घायल की मौत कुछ रोज़ बाद हुई थी,यानी दो हत्या हुई थी,उक्त चर्चा के बीच आज पुलिस ने हत्याकांड का ख़ुलाशा कर दिया और गिरफ़्तार कर लिए गए अपराधी,लेकिन जो ख़ुलाशा हुआ वह चौकाने वाला है,आइये पढ़िये यह रिपोर्ट।

अपराध का जड़ है बस स्टैंड:- पलामू और गढ़वा में अपराध का मुख्य जड़ बस स्टैंड में वसूली को माना जाता है,इन दोनों जिलों को मिलाकर अब तलक सैकड़ा हत्याएं हो चुकी हैं,यहां बताएं कि आपराधिक गिरोहों के बीच अक्सर वर्चश्व की लड़ायी होती रहती है,जिसमें जान जाती रहती है,हत्या के लंबे फ़ेहरिस्त में गढ़वा का यह घटना भी उस रोज़ जुड़ गया जब दिन के उजाले में अपराधियों द्वारा स्टैंड में गोली चलायी गयी जिसमें उनके गोलियों का निशाना बस एजेंट शैलेश ही जिन्हें मारने वो स्टैंड में पहुंचे थे,उन्हें गोली लगी और घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गयी,उधर उसी गोलीचालन में एक अन्य एजेंट कईल दुबे घायल हुए जिनकी मौत कुछ रोज़ बाद इलाज़रत हालात में रांची में हो गयी,एक तरफ़ जहां घटना के बाद से अपराधियों को गिरफ़्तार करने की तीव्र मांग उठ रही थी वहीं पुलिस भी प्रयासरत थी,जिसमें आज सफ़लता मिली,और अपराधी गिरफ़्तार कर लिए गए।

गिरफ़्त में लेडी डॉन:- अब तलक की घटनाओं में केवल मर्द ही शामिल होते आये थे,पर आज जब इस घटना का पुलिस ने ख़ुलाशा किया तो जो चौकाने वाली जानकारी सामने आयी वो यह है कि अब अपराधी सरगना की पत्नी भी हत्या जैसी जघन्य वारदात में शरीक होने लगीं,बस स्टैंड में घटित हुई जिस घटना का ज़िक्र और गिरफ़्तारी की चर्चा हमने की उसमें मुख्य रूप से लेडी डॉन भी शामिल है,यहां बताएं कि जेल में बंद कुख्यात अपराधी सरगना छोटू रंगसाज द्वारा स्टैंड में वर्चश्व को ले कर इस घटना को घटित कराया गया,घटना की पूरी योजना जेल में ही बनी,जिसे एक तरफ़ जहां वो जेल से ऑपरेट कर रहा था,वहीं उसके इस जघन्य वारदात में उसका साथ उसकी लेडी डॉन पत्नी सलमा भी दे रही थी,और दोनो ने मिलकर गिरफ़्तार 11 एवं अन्य अपराधियों के साथ इस हत्याकांड की घटना को अंजाम दे डाला,आज लेडी डॉन सलमा के साथ साथ 11 अपराधियों को गिरफ्तार किया गया तो उनके पास से हथियार गोली एवं हत्या में प्रयुक्त बाइक भी बरामद कर लिया गया।

घटना भी घटी और 14 रोज़ बाद पुलिस ने मामले का ख़ुलाशा करते हुए अपराधियों को गिरफ़्तार भी कर लिया,लेकिन सबसे ज़रूरी है ऐसी पुलिसिया व्यवस्था स्टैंड के इलाके में मुस्तैद करने की ताकि फ़िर से किसी घटना की पुनरावृत्ति ना हो..?

Total view 1695

RELATED NEWS