सूत्रों की माने तो गढ़वा से भी जुड़ रहा है तार,क्या गढ़वा भी आएगी ईडी..?


आशुतोष रंजन
गढ़वा

तेरह तारीख को अपने यहां यानी झारखंड के गढ़वा में लोकसभा चुनाव का मतदान होगा,एक ओर जहां राजनीतिक पार्टियां अपनी अपनी रणनीति के तहत पलामू सीट को अपने पाले में करने को ले कर हर पैंतरा अपना रहे हैं तो वहीं दूसरी ओर मतदाता भी अपनी पारखी नज़रों से प्रत्याशियों को परख रहे हैं,अब तो चार जून को आने वाला परिणाम ही बताएगा की किसे मतदाताओं ने परखा और किस ओर उनका झुकाव हुआ,लेकिन गुज़र रहे चुनावी चर्चा से इतर जो एक चर्चा काफ़ी तेज़ी से बलवती हो रही है वो है चार करोड़ की बरामदगी की,आख़िर कहां से हुई है बरामदगी और क्यों हो रही है चर्चा आइए आपको इस ख़ास ख़बर के ज़रिए बताते हैं।

चुनाव के बीच चर्चा में चार करोड़ की बरामगी : – मैं बरामदगी के वक्त वहां तो नहीं था लेकिन सूत्रों से जो जानकारी मिल रही है उसके अनुसार पिछले दिनों रांची स्थित एक आवास से ईडी द्वारा चार करोड़ रुपए की बरामदगी की गई है,हम आप क्या हर कोई प्रथम दृष्टया यही जान रहा है की जो रुपया बरामद हुआ है उसमें किसी और का नाम है पर जो सूत्र बता रहे हैं उनकी माने तो उक्त रुपयों के बड़े खेप से गढ़वा के एक संवेदक का नाम जुड़ रहा है अब इसे सीधे रूप में स्पष्ट नहीं कहा जा सकता क्योंकि मेरे देखने के हिसाब से गढ़वा का कोई संवेदक ऐसा नहीं है जो इतनी अकूत संपत्ति अर्जित कर लिया हो और ईडी द्वारा लगातार की जा रही कार्रवाई के बीच में अपने घर में इतना रुपया रखा हो,पर चर्चा तो यही हो रहा है,अब इसका प्रमाण तो उसी रोज़ मिलेगा जब ईडी की टीम गढ़वा पहुंचेगी क्योंकि बताया जा रहा है की गढ़वा में पहुंचने के लिए ईडी द्वारा फिल्डिंग भी शुरू ही कर दी गई होगी,अब इसे आप राजनीति से कतई जोड़ कर मत देखिएगा क्योंकि ईडी अपने अनुसार भ्रष्टाचारियों के विरुद्ध कार्रवाई में जुटी हुई है यह उसी का एक हिस्सा है,हां यह बात अलग है की भाजपा द्वारा इसे राजनीति से केवल जोड़ कर देख ही नहीं जा रहा है बल्कि क्या राज्य और क्या देश हर जगह इस चुनाव इसे भंजाया भी जा रहा है,अब यहां दो अवसर का राह ताकना होगा एक तो ईडी की टीम चार कारोड़ी मामले में गढ़वा कब पहुंचती है तो वहीं दूसरी ओर ऐसे मामले को भंजाने का भाजपा को इस चुनाव में क्या परिणाम दिलाता है..?