लेवी के लिए जलाई थी गाड़ियां

भोला कुमार
पलामू

पलामू जिले को पूरी तरह नक्सल मुक्त बनाने की दिशा में तीव्रता से प्रयासरत एसपी रिशमा रमेशन के कुशल नेतृत्व में काम कर रही जिला पुलिस एक टीम वर्क के रूप में काम कर रही है जिसमें अनवरत सफ़लता भी हासिल हो रही है,इसी कड़ी में आज एक बड़ी सफ़लता हासिल हुई है,आख़िर क्या है वो सफ़लता आइए आपको इस ख़ास ख़बर के ज़रिए बताते हैं |

चार नक्सली गिरफ़्तार : – कुछ यूं बढ़ी है पुलिसिया कार्रवाई की रफ़्तार तभी तो चार नक्सली हुए गिरफ़्तार,जी हां यह कोई मात्र जुमला नहीं बल्कि पलामू पुलिस द्वारा लगातार हासिल की जाने वाली सफ़लता की वो सच्चाई है जो नुमाया हो रही है,आपको बताएं की पुलिस द्वारा चार माओवादी नक्सली को गिरफ़्तार किया गया है,उक्त नक्सली केवल हथियार और पिट्ठू ढोने वाले नहीं बल्कि इनके ऊपर कई नक्सली घटनाओं को अंजाम देने का आरोप है,इनके पास से पुलिस को नक्सली पर्चा के साथ साथ नक्सल साहित्य सहित अन्य सामान भी बरामद हुए हैं |

इनके द्वारा ही जलाई गई थी गाड़ियां : – आपको तो प्रकाशित और प्रसारित ख़बरों से जानकारी हो ही गई होगी की इसी जिले के हैदरनगर थाना क्षेत्र में एक सड़क निर्माण में युक्त कई गाड़ियों को 26 जून की रात में नक्सलियों द्वारा जला दिया गया था,दरअसल उक्त सड़क का निर्माण हुसैनाबाद विधानसभा क्षेत्र के विधायक कमलेश सिंह के भाई विनय सिंह द्वारा कराया जा रहा है,निर्माण स्थल पर नक्सलियों द्वारा उत्पात मचाए जाने के बाद एसपी द्वारा इसे गंभीरता से लिया गया था और मामले की जांच सहित कार्रवाई हेतु उनके द्वारा एक टीम गठित की गई थी,टीम द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए चार नक्सली मृत्युंजय यादव,सुरेश रजवार,वृजदेव रजवार एवं कामेंद्र राम को गिरफ़्तार किया गया,आपको यहां बताएं की निर्माण स्थल पर नक्सली घटना को अंजाम देने का नेतृत्व पंद्रह लाख के इनामी नक्सली कमांडर नितेश यादव द्वारा किया जा रहा था,उक्त नक्सली दस्ते द्वारा निर्माण के एवज में लेवी की मांग की जा रही थी,नहीं देने की सूरत में उनके द्वारा गाड़ी जलाने की घटना को अंजाम दिया गया था |

इस टीम ने हासिल की सफ़लता : – हुसैनाबाद एसडीपीओ मुकेश कुमार के नेतृत्व में नक्सलियों को गिरफ़्तार करने में इंस्पेक्टर आशुतोष प्रताप नारायण,हुसैनाबाद थाना प्रभारी रामाशंकर पटेल,हैदरनगर थाना प्रभारी अफजल अंसारी,मोहम्मदगंज थाना प्रभारी पंकज तिवारी एवं दंगवार पिकेट प्रभारी संजय यादव की प्रमुख भूमिका रही |