Bindash News || कौन कर रहा "आदिवासी विकास" का हाला, देखो मार दी गयी एक "आदिवासी बाला"
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

कौन कर रहा "आदिवासी विकास" का हाला, देखो मार दी गयी एक "आदिवासी बाला"

Bindash News / 16-12-2018 / 1532


गढ़वा में हुआ हत्याकांड का ख़ुलाशा
ना रहें ऐसे लोगों से बेख़बर,दें पुलिस को ख़बर:विजय

आशुतोष रंजन
गढ़वा

आदिवासी विकास की अवधारणा के साथ गठित झारखंड प्रदेश में आदिवासी विकास से दूर हैं और उनकी हालात बद्दतर है यह सर्वविदित है,साथ ही उन्हें जिंदगी से दूर करते हुए मौत के करीब भी लाया जा रहा है इसका ख़ुलाशा आज गढ़वा में उस वक्त हुआ जब आठ माह पूर्व हुई एक आदिवासी लड़की की हत्या मामले में चार लोगों को गिरफ़्तार किया गया,क्या है पूरी ख़बर पढ़िए इस खास रिपोर्ट में

मार दी गयी एक आदिवासी बाला:- कौन कर रहा आदिवासी विकास का हाला, यहां देखों मार दी गयी एक आदिवासी बाला",जी हां जिला मुख्यालय स्थित शहर थाना परिसर में पुलिस अधिकारियों के पीछे गिरफ्त हो चेहरा ढंके खड़े यह वही चारो आरोपी हैं जो हत्याकांड में शामिल हैं,आपको बताएं कि पिछले अप्रैल माह में एक लड़की का शव मझिआंव थाना इलाके के एक कुएं में पाया गया था,जिसकी शिनाख़्त भंडरिया थाना क्षेत्र के आदिवासी लड़की के रूप में हुई थी,यहां बताएं कि उक्त लड़की का मझिआंव के एक लड़के से प्रेम चल रहा था,जो आगे बढ़ कर शादी होने तक पहुंच गया था लेकिन लड़के के परिजन शादी के ख़िलाफ़ थे,सो बात कर समझाने के बजाए लड़की को रास्ते से हटाने की जुगत में जुट गए और उनके द्वारा अपराधी ब्रजेश पांडेय से संपर्क किया गया और हत्या के बावत बतौर पचास हजार सुपारी दी गयी,और उसके बाद ब्रजेश पांडेय द्वारा उक्त लड़की को नौकरी दिलाने के नाम पर बहला कर और बरगला कर शहर मुख्यालय लाया गया जहां उसकी हत्या कर दी,फिर शव को कुएं में डाल दिया।

आज पूरी हुई आस:- जारी था प्रयास,आज पूरी हुई आस",उधर शव बरामदगी के रोज से ही हत्याकांड का उदभेदन और गिरफ्तारी में जुटी पुलिस को सफलता मिली और प्रेमी के परिजन सहित हत्या करने वाले ब्रजेश पांडेय को गिरफ्तार कर लिया गया,दूसरी ओर पुलिस अधिकारी डीएसपी रंका विजय कुमार द्वारा लोगों से अपील किया गया कि नौकरी देने के नाम पर बरगलाने वाले ऐसे लोगों से पूरी तरह सावधान रहें और अगर ऐसे लोग आपसे संपर्क करते हैं तो सीधे पुलिस को सूचना दें।

Total view 1532

RELATED NEWS