Bindash News || "नाराज़" नहीं न हैं "विधायक" जी
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

"नाराज़" नहीं न हैं "विधायक" जी

Bindash News / 04-04-2019 / 2435


विपक्ष का खुमारी होगा छूमंतर,देख कर हमारा जीत का अंतर:विधायक
 
आशुतोष रंजन
गढ़वा
 
साल 2014 में खुद को 19 साबित करने के बाद अब एक बार फ़िर से 19 में सबसे 20 होने के लिए सत्तापक्ष आमादा है,जिसके मद्देनजर बैठकों और तैयारियों की समीक्षा जारी है,इसी कड़ी में आज गढ़वा में पार्टी के मंत्री,सांसद और विधायक सहित राज्य और जिला स्तर के पदाधिकारियों की बैठक हुई जिसमें तैयारियों की समीक्षा तो हुई ही लेकिन बैठक में एक विषय मुख्य रूप से छाया रहा,और वह है गढ़वा विधायक का बैठक में नहीं आना,उक्त मुद्दे पर सभी ने क्या कहा जानने के लिए पढ़िए यह रिपोर्ट-
 
भाजपा कर रही तैयारियों की समीक्षा:- पास होने को चुनावी परीक्षा,भाजपा कर रही तैयारियों की समीक्षा",भाजपा जो इस लोकसभा चुनाव में अपने आप को जीतने वाली पार्टी का पर्याय प्रमाणित करने में जुटी हुई है,तभी तो राष्ट्रीय और राज्य स्तर की बात कौन करे जिला और प्रखंड स्तर पर भी मैराथन बैठकें और तैयारियों की समीक्षा जारी है,बात आज की बैठक की करें तो सबने कहा कि इन गुजरे पांच सालों में भाजपा सबकी उम्मीदों पर खरा उतरने का काम किया है,छोटे से ले कर बड़े स्तर पर बहुद्देशिय कार्य कार्यान्वित हुआ है बस उन सभी कार्यों को जनता को बताते हुए हमें वोट लेना है और अपने प्रत्याशियों को जीत के बड़े अंतर के साथ जिताना है,लेकिन इस महत्वपूर्ण बैठक में विधायक का नहीं आना चर्चा का विषय बना रहा,इस बावत जब हमने जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश केशरी से पूछा तो उनका जवाब मिला कि बैठक की सूचना दे दी गयी थी,किसी जरूरी कारणवश वह नहीं आ पाए हैं और कुछ कारण नहीं है।
 
हम ले चुके हैं शपथ,चलेंगें विजय पथ:- सबको जीत का मंत्र देने के लिए बैठक में मुख्य रूप से मौजूद भाजपा के जामवंत कहे जाने वाले श्याम नारायण दुबे ने कहा कि प्रखंड के एक छोटे से ले कर जिला और राज्य स्तर के पार्टी के सभी कर्मठ कार्यकर्ता मिशन 19 में प्राणपण से जुटे हुए हैं बस इसी तारतम्यता को बनाये रखना है और विजय श्री हासिल करना है,साथ ही विधायक के नहीं आने के मसले पर कहा कि कोई कारण ही होगा उनके नहीं आने का,वह नाराज हैं ऐसी बात तो कभी सामने नहीं आयी है।
 
नहीं रुकेगा विजय रथ:- उधर बैठक में भाग लेने पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी ने कहा कि भाजपा का यह विजय रथ पिछले 14 से चलायमान है जो अभी अनवरत दशकों तक चलता रहेगा,बस हम सभी पार्टी के कार्यकर्ताओं को पूरी ईमानदारी से मिशन में जुटे रहना है,साथ ही विधायक का बैठक में नहीं आने का मतलब यह कतई नहीं है कि विधायक नाराज़ हैं,हो सकता है किसी जरूरी कार्य के कारण वह नहीं आ पाए हैं,वह बिल्कुल नाराज़ नहीं हैं,जिस तरह हम सभी पार्टी प्रत्याशी को जिताने के लिए जुटे हुए हैं ठीक उसी तरह वह भी संकल्पित हैं।
 
देख कर हमारा जीत का अंतर:- विपक्ष का ख़ुमारी होगा छूमंतर,देख कर हमारा जीत का अंतर",जी हां हौसले और दिली ज़ज्बे से लबरेज़ इस पंक्ति के साथ विधायक सतेंद्र नाथ तिवारी ने कहा कि हम यानी अपनी पार्टी कल भी सबसे बीस थी अब तो हम बहुत आगे बढ़ चुके हैं,केंद्र में नरेंद्र मोदी और राज्य में रघुवर दास सरकार ने विकास की इतनी बड़ी लक़ीर खींच दी है कि उससे आगे बढ़ने की बात कौन करे उसे विपक्ष द्वारा छूना मुश्किल है,और रही मेरे नाराज़ होने की बात,तो आपको बताएं कि ऐसी बात राजनीति में साजिशन फैलाई जाती है,लेकिन इससे हमारी सेहत पर कोई फर्क पड़ने वाला नहीं है,हम बिल्कुल नाराज़ नहीं हैं,और पार्टी के एक सच्चे सिपाही के रूप में मिशन उन्नीस में पूरी तन्मयता के साथ जुटे हुए हैं।
 
इस आम चुनाव में अपनी सफ़लता ख़ास हो,जीत का अंतर हो कुछ ऐसा की,ना कोई अपने पास हो",जी हां कुछ इसी संकल्प के साथ सत्तापक्ष हो विपक्ष सभी जुटे हुए हैं,लेकिन इसी बीच दोनो खेमों के महत्वपूर्ण राजनेताओं के नाराज़ होने की भी बात सामने आ रही है,ऐसे में जीत की बाज़ी कैसे हांथ आती है यह तो देखने वाली बात होगी।
 
 

Total view 2435

RELATED NEWS