Bindash News || वो चार हुए "गिरफ़्तार",जो "चार राज्यों" में बेचते थे "हथियार"
    

    
    

    
    

    
    
    






       
        
        
 


    

State

वो चार हुए "गिरफ़्तार",जो "चार राज्यों" में बेचते थे "हथियार"

Bindash News / 23-07-2019 / 1333


बिस सालों से हो रहा था अवैध कारोबार


आशुतोष रंजन
गढ़वा

आज राज्य की गढ़वा पुलिस को उस वक्त एक बड़ी सफ़लता हाथ आयी जब चार राज्यों में हथियार बेचने वाले चार कारोबारियों को गिरफ़्तार किया गया,कहां से हुई गिरफ़्तारी और क्या हुआ खुलाशा पढ़िये इस रिपोर्ट में।

डीएसपी ने कर लिया गिरफ़्तार:- एसपी को मिली सूचना,डीएसपी ने कर लिया गिरफ़्तार",जी हां जिले के बंशीधर नगर अनुमंडल इलाके में अवैध रूप से हथियार बनाये जाने की सूचना एसपी शिवानी तिवारी को मिली,सूचना के आलोक में एसपी द्वारा डीएसपी नीरज कुमार के नेतृत्व में तत्काल एक टीम का गठन किया गया और उधर डीएसपी ने इंस्पेक्टर,थाना प्रभारी और  पुलिसकर्मियों के साथ बताए गए जगह गरबांध जंगल पहुंचे और छापामारी की गयी,जहां पुलिस ने हथियार बनाने और उसका कारोबार करने वाले चार लोगों को गिरफ़्तार किया वहीं दर्जनों की संख्या में निर्मित हथियार और गोली के साथ अर्धनिर्मित हथियार और उसे बनाने वाली सामग्री बरामद हुआ।

बिस सालों से हो रहा था यह कारोबार:- हथियार बनाने और उसकी बिक्री करने का यह अवैध धंधा कोई दो चार दिन और महीना साल का नहीं बल्कि पिछले बीस सालों से यह अवैध कारोबार बदस्तूर जारी था,गिरफ़्तार किये गए हथियार बनाने वाले चारों के बारे बताया जाता है कि ये हथियार बनाने में इतने पारंगत हो गए थे कि ये कम वक्त में ज्यादा हथियार बना उसकी आपूर्ति किया करते थे,हथियार बनाने की इनकी जगह जिसे मिनी गन फैक्ट्री कहा जाता है वह जंगलों और पहाड़ों के बीच में अवस्थित था जहां तक किसी का पहुंचना तो दूर वहां जाने की सोचना भी दूर की बात थी,लेकिन वो उनके द्वारा हथियार बनाने की सामग्री लाना से ले कर उससे हथियार बना वहां से निकल उसकी आपूर्ति करना ये सारे काम वो बड़ी आसानी से किया करते थे,लेकिन उस दुरूह जगह पर पुलिस पहुंची और उक्त गन फैक्ट्री का उदभेदन कर डाला।

पहली बार मिला डेटोनेटर:- नक्सलियों द्वारा बारूदी सुरंग बिस्फोट कराने में इस्तेमाल करने वाला डेटोनेटर अब तलक उनकी गिरफ्तारी के बाद उनके पास से बरामद होता आया है,लेकिन पुलिस तब सोच में पड़ गयी जब हथियार बनाये जाने वाले उपकरणों के साथ डेटोनेटर भी बरामद हुआ,इसकी बरामदगी के बाद पुलिस जहां गिरफ्त में आये उन चारों से पूछताछ कर यह मालूम करने में जुटी है कि आख़िर हथियार बनाने वाले इस डेटोनेटर का किस रूप में इस्तेमाल करते थे ?

कई राज्यों में बिक्री होती थी हथियारों की:- आज उदभेदन हुए इस मिनी गन फैक्ट्री में निर्मित किये जाने वाले हथियारों की बिक्री आस पास और अपने जिला और खुद के राज्य में ही नहीं बल्कि पड़ोसी राज्य यूपी,बिहार और छत्तीसगढ़ ही नहीं बल्कि पश्चिम बंगाल और उड़ीसा में भी होती थी,साथ ही साथ कुछ हथियार झारखंड और यूपी के सफेदपोश लोगों को भी आपूर्ति की जाती थी।

Total view 1333

RELATED NEWS