50 ग्राम हेरोइन और लाख हुआ रुपया बरामद


आशुतोष रंजन
गढ़वा

झारखंड के गढ़वा जिला को नक्सली और अपराधियों के साथ साथ नशा से भी पूरी तरह मुक्त कराने की दिशा में प्रयासरत एसपी अंजनी कुमार झा के नेतृत्व में काम कर रही पुलिस टीम द्वारा लगातार सफ़लता भी हासिल की जा रही है,अब आज कौन सी बड़ी सफ़लता पुलिस को हासिल हुई,आइए आपको इस ख़ास ख़बर के ज़रिए बताते हैं।

नशा कारोबार का मुख्य केंद्र रहा है गढ़वा: सुदूर देहात की बात कौन करे गढ़वा जिला मुख्यालय नशा कारोबार का मुख्य केंद्र रहा है,शराब,गांजा,अफ़ीम और हेरोइन के साथ साथ हर मादक पदार्थों की बिक्री का मुख्य स्थान गढ़वा दशकों से रहा है,साथ ही साथ कहूं की नशा तस्करों के लिए भी गढ़वा सेंटर रहा है,लेकिन यह बात गुजरे दौर की हो गई,क्योंकि वर्तमान पुलिस कप्तान अंजनी कुमार झा के कुशल निर्देशन में हो रही पुलिसिया कार्रवाई का आलम है की यहां के बड़े नशा कारोबारी कारोबार करने के लिए दूर प्रदेशों का रुख कर लिए हैं,साथ ही जो छोटे स्तर पर कारोबार करते हैं वो दबोचे जा रहे हैं।

मामी के नक्सेक़दम पर चल रही थी रूबी: हेरोइन कारोबार और उसके तस्करी से जुड़े लोगों में मामी का नाम बड़े अदब से लिया जाता है,क्योंकि बिहार के सासाराम की रहने वाली और फिलवक्त छत्तीसगढ़ जेल में बंद महिला जो मामी के नाम से मशहूर है उसके द्वारा हेरोइन की तस्करी कई दशकों से बड़े पैमाने पर की जाती रही है,उसके मजबूत नेटवर्क का अंदाज़ा आप इसी से लगा सकते हैं की कारोबार करने के कई सालों बाद उसकी गिरफ्तारी हो पाई,अब यहां बात हम गिरफ्तार हुई रूबी की करें तो एसपी अंजनी कुमार झा को मिले गुप्त सूचना के आधार पर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अवध कुमार यादव के नेतृत्व में तत्काल एक टीम का गठन कर छापामारी किया गया,जिसमें रूबी देवी को गिरफ़्तार किया गया,हेरोइन का कारोबार सालों पूर्व शुरू करने बाद उसके द्वारा जहां एक तरफ़ कई सहयोगियों को लिया गया तो वहीं दूसरी ओर नेटवर्क भी बढ़ाया गया,गिरफ़्तारी के बाद उसके पास से हेरोइन और रुपयों की बरामदगी एवं हुई पूछताछ के आधार पर ही कहा जा रहा है की हेरोइन के कारोबार में रूबी भी मामी के नक्सेकदम पर चल रही थी।

अब तो छात्र भी हेरोइन भी पीने लगे: अब गढ़वा में कुछ यूं जिंदगी जीने लगे,क्योंकि यहां अब छात्र भी हेरोइन पीने लगे”, हम आप इस जानकारी से तो वाक़िफ हैं ही की नशा कारोबार का मुख्य केंद्र गढ़वा में बहुत लोग हेरोइन का सेवन किया करते हैं लेकिन आज हुई इस गिरफ़्तारी के बाद यह खुलासा हुआ की अब यहां स्कूली छात्र भी हेरोइन पीने लगे हैं,गिरफ्तारी के बाद रूबी देवी ने बताया की व्यस्क लोगों के साथ साथ उसके पास हेरोइन लेने छात्र भी आया करते थे,यह जानकारी निश्चित रूप में सकते में लाने वाला है।

छापामारी टीम में ये रहे शामिल: हेरोइन कारोबारी रूबी देवी को गिरफ़्तार करने वाले छापेमारी टीम में अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अवध कुमार यादव के साथ साथ पुलिस निरीक्षक सह गढ़वा थाना प्रभारी लक्ष्मीकांत,पुलिस अवर निरीक्षक कृष्ण कुमार कुशवाहा,संजय कुमार,रीना दास,हवलदार दिनेश पासवान एवं आरक्षी टिंकू कुमार डोम और महिला सहायक सोनम कुमारी का नाम शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.